नई दिल्ली: अभिनेता साहिल उप्पल (Saahil Uppal) आज टेलीविजन इंडस्ट्री में एक जाना माना नाम हैं लेकिन अभिनेता का कहना है कि उन्होंने काफी संघर्ष के बाद ये मुकाम पाया है. साहिल का कहना है कि शुरू में उसके लिए सफलता पाना कठिन था और अक्सर ऑडिशन देने से पहले ही कई बार कास्टिंग डायरेक्टर्स द्वारा उन्हें ठुकरा दिया जाता था.Also Read - Pinjara Khubsurti Ka: श्रुति उल्फत 'पिंजरा खूबसूरती का' में दिखाएंगी अपने जलवे, ऐसा होगा किरदार

उन्होंने आईएएनएस को बताया, अस्वीकारों और निराशाओं के नाम पर बहुत संघर्ष था. मैं एक शर्मीला युवा था जो अभिनेता बनना चाहता था, लेकिन उद्योग में कोई पृष्ठभूमि नहीं थी और कला के बारे में ज्ञान नहीं था. कास्टिंग निर्देशक ने ऑडिशन को देखने से पहले ही टिप्पणी की तुम ‘फिट नहीं’ होते हो.

साहिल कहते हैं कि, हालांकि उन दिनों ने बहुत कुछ सिखाया है. वह वर्तमान में साहिल ‘पिंजरा खूबसूरती का’ में ओंकार की भूमिका निभा रहे हैं. वह एक सफल व्यवसायी हैं और उन्होंने बहुत संघर्ष और कठिनाइयों के बाद सब कुछ कमाया है. वह नहीं चाहते कि उनके बचपन के वे काले दिन वापस हों. सभी सुंदर चीजों को संरक्षित करने की जरूरत है.