ईरा त्रिवेदी की ओर से चेतन भगत पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए जाने के बाद उन्होंने अपनी सफाई पेश की है. इस मामले में चेतन भगत का कहना है कि ईरा सरासर झूठ होल रही हैं और ये सारे आरोप बेबुनियाद हैं. ईरा त्रिवेदी ने इस मामले में 2013 के ईमेल का एक स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर शेयर किया है. Also Read - अर्जुन कपूर नहीं सुशांत बनने वाले थे फिल्म 'हाफ गर्लफ्रेंड' के हीरो, खुलासे के बाद स्टार किड हुए ट्रोल

चेतन भगत ने इस मामले में ट्वीट के जरिए खुद पर लगे आरोपों को झूठा करार दिया. चेतन ने जिस ईमेल का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर शेयर किया है उसकी अंतिम पंक्ति में ईरा ने ‘मिस यू किस यू’ लिखा है. इसके बाद चेतन भगत ने लिखा, “तो कौन किसे किस करना चाहता था? इरा त्रिवेदी की ओर से 2013 में मुझे भेजे गए इस मेल से सच्चाई सामने आ गई है.

इससे साफ हो जाता है कि साल 2010 की घटना को लेकर उन्होंने जो आरोप लगाए थे वह झूठ थे. इसके अलावा चेतन भगत ने इस अभियान को एक गंदा अभियान करार दिया. बता दें, इससे पहले चेतन भगत ने आरोप लगने पर फेसबुक पोस्ट के जरिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगी थी. इससे पहले चेतन भगत ने कहा था, ”मी टू की अभियान की आड़ में मुझ पर हमले हो रहे हैं और मुझे परेशान किया जा रहा है.”

इसके अलावा उन्होंने कहा, ”मैं उत्पीड़क नहीं हूं, न कभी था और न कभी रहूंगा.” बेस्टसेलिंग लेखक भगत की हालिया किताब ‘द गर्ल इन रूम 105’ मंगलवार को रिलीज हुई. भगत ने कहा कि वे स्क्रीनशॉट्स मजाकिया, लेकिन दोस्ताना और शालीन बातचीत के थे. उन्होंने कहा कि ऐसे आधारहीन आरोपों से उनकी पत्नी, 70 वर्षीय मां, उनके ससुराल पक्ष के लोग और उनके किशोर आयु के जुड़वा बेटों पर प्रभाव पड़ा है.”