पटना: पटना के रहने वाले और बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की खुदकुशी मामले की जांच की मांग अब जोर पकड़ते जा रही है. इसको लेकर कई राजनीतिक दल और संगठन अब तक सामने आ चुके हैं. इसी कड़ी में कांग्रेस ने भी सुशांत की खुदकुशी मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की मांग को लेकर मंगलवार को गृहमंत्री अमित शाह और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्घव ठाकरे को अलग-अलग पत्र लिखा है. बिहार युवक कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और फिल्म सेंसर बोर्ड परामर्शदात्री समिति के सदस्य रहे ललन कुमार ने गृह मंत्री अमित शाह और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्घव ठाकरे को पत्र लिखकर सुशांत के आत्महत्या मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है.Also Read - Delhi Riots: जहांगीरपुरी दंगा और उसके बाद बुलडोजर की राजनीति पर राहुल गांधी का बयान | Watch Video

पत्र में कुमार ने लिखा है कि सुशांत एक छोटे शहर से निकल कर बॉलीवुड में बहुत कम समय में अपनी पहचान बना ली थी, जिससे फिल्मी दुनिया का एक वर्ग नाखुश था. उन्होंने कहा कि मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक आशंका व्यक्त की जा रही है कि उसे आत्महत्या के लिए प्रेरित किया गया था. ऐसे में अगर सीबीआई की जांच हो जाए तो सबकुछ साफ हो जाएगा. Also Read - Top Headlines: काँग्रेस का चिंतन शिविर, जहांगीरपुरी दंगा मामले में खुलासा, पाकिस्तान में मंत्रियों ने ली शपथ | Watch Video

उन्होंने आगे यह भी कहा है कि अगर 15 दिनों के अंदर सीबीआई जांच की उनकी मांग नहीं मानी गई तो इस मांग को लेकर वे अदालत में भी जाएंगे. उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक सुशांत को न्याय नहीं मिल जाता तब तक अभिनेता सलमान खान, करण जौहर की फिल्मों को भी अब बिहार में प्रदर्शन नहीं होने दिया जाएगा. Also Read - Congress Revival: काँग्रेस की डूबती नैया को क्या प्रशांत किशोर उबार पाएंगे, प्रशांत कर सकते हैं Congress पार्टी जॉइन | Watch Video

इससे पूर्व कांग्रेस के नेता और पूर्व राज्यपाल निखिल कुमार भी इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है. भाजपा नेता और अभिनेता मनोज तिवारी भी इस मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग कर चुके हैं. उल्लेखनीय है कि सुशांत ने 14 जून को मुबई के बांद्रा स्थित आवास पर गले में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी.