बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर (Kanika Kapoor) ने बीते शुक्रवार (20 मार्च) को ही अपने कोरोना (Coronavirus) पॉजिटिव होने की बात दुनिया को बताई थी. खबर सामने आने के बाद से कनिका लखनऊ (Lucknow) में कॉरन्टाइन में हैं, जहां उनका इलाज चल रहा है. कनिका जिस अस्पताल में भर्ती हैं वहां का स्टाफ उनके नखरों से परेशान हो गया है. रिपोर्ट के मुताबिक, कनिका अस्पताल में एक मरीज की तरह व्यवहार ना करके सेलिब्रिटी की तरह व्यवहार कर रही हैं. जिसके चलते अस्पताल का स्टाफ उनसे पूरी तरह से परेशान हैं. वहीं कनिका ने अस्पताल के डॉक्टर्स और स्टाफ पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनपर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. अस्पताल में गंदगी है. उनके कमरे में धूल है. इस बारे में डॉक्टर्स का बयान आ गया है. एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि कनिका झूठ बोल रही हैं. ऐसा कुछ भी नहीं है. उनके कमरे की सफाई हर चार घंटे पर हो रही है. Also Read - Nora Fatehi की ये तस्वीरें फिर मचा रही हैं बवाल, दिल पर खंजर चलाकर करती हैं सलीके से कत्ल

Also Read - Corona Impact on Bollywood: No Means No के डायरेक्टर ने कहा- जब तक लोगों को वैक्सीन नहीं लग जाती तब..

डाक्टर ने बताया कि ‘उनके लिए तैनात हॉस्पिटल स्टाफ 4 घंटे की शिफ्ट में काम कर रहे हैं, जिसके दौरान वे न खा सकते हैं न कुछ पी सकते हैं, क्योंकि इस दौरान उन्होंने एंटी इन्फेक्शन इक्विवपमेंट पहने होते हैं.’ Also Read - Tiger Shroff के फिटनेस ट्रेनर का खुलासा- ऐसे ही नहीं बनी बॉडी... इतने घंटे जिम में लेते हैं ये स्पेशल ट्रेनिंग

Kanika Kapoor coronavirus case

Kanika Kapoor (Photo Courtesy: Instagram/@kanik4kapoor)

लखनऊ स्थित संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (SGPGI) के डायरेक्टर ने कनिका पर यह आरोप लगाया है कि कनिका को सभी जरूरी और खास सुविधाएं दी गई हैं. उन्हें जिस रूम में रखा गया है वहां बेड, टीवी से लेकर सेप्रेट टॉयलेट भी है, लेकिन इसके बाद भी वह लगातार नखरे दिखा रही हैं और हॉस्पिटल स्टाफ से बुरा बर्ताव कर रही हैं. जिससे हर कोई परेशान है. यहां भी वह स्टार्स वाले नखरे दिखा रही हैं. वह एक मरीज की जगह स्टार की तरह व्यवहार कर रही हैं.

बता दें इससे पहले भी ऐसी कई रिपोर्ट्स आ चुकी हैं, जिसमें कहा जा रहा है कि कनिका जिस अस्पताल में हैं वह वहां की मेडिकल फेसिलिटी से संतुष्ट नहीं हैं. खुद कनिका ने आरोप लगाए हैं कि अस्पताल में खाने-पीने तक की अच्छी व्यवस्था नहीं है तो मेडिकल फेसिलिटी की हालत कैसी होगी इसे समझना मुश्किल नहीं है. यहां तक कि उन्होंने डॉक्टर्स पर भी ठीक से व्यवहार ना करने का आरोप लगाया है. कनिका का कहना था कि डॉक्टर्स उन्हें ठीक तरीके से ट्रीट नहीं कर रहे हैं और कह रहे हैं कि उन्होंने इंटरनेट पर पढ़ा है कि उन्होंने कुछ गलत किया है.