छोटे परदे की गरबा क्विन दया भाभी यानि की दिशा वाकाणी अब वाकई में सबकी भाभी बनने वालीं हैं। जी हाँ यह सच है दिशा मुंबई के उद्योगपति मयूर से 24 नवम्बर को शादी करनेवाली हैं। दिशा को ज़्यादातर लोग उनके असली नाम के बजाए दया भाभी के नाम से जानते हैं।

35 साल की दिशा को आपने छोटे परदे के मशहूर टीवी सीरियल तारक मेहता का उल्टा चश्मा के ज़रिये जाना है लेकिन हम आज आपको दिशा के निजी ज़िन्दगी के बारे में बताएँगे जो आप शायद नहीं जानते होंगे।

बचपन:
दया भाभी यानि की दिशा का जन्म 17 सितंबर 1978 को गुजरात केअहमदाबाद में हुआ लेकिन वो भावनगर में पली बढ़ी हैं। दिशा को बचपन से ही अभिनय का शौक था उन्होंने गुजरात कॉलेज, अहमदाबाद से ड्रामेटिक आर्ट्स में ग्रैजुएशन किया है। अपे पढाई के दौर से ही दिशा एक्टिंग से जुड़ गईं थीं। यह भी पढ़ें:wow!!! बंगाली रीति-रिवाज के साथ होगी रानी की गोद भराई

तारक मेहता का उल्टा चश्मा ने दिलाई पहचान:
साल 2008 से ही दिशा छोटे परदे के मशहूर शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा से जुड़ गईं और यह सीरियल काफ़ी लोकप्रिय हुआ खास कर दिशा को इसी सीरियल के किरदार यानि दया भाभी के नाम से ही लोग जानने लगे। इससे पहले दिशा ने छूते परदे के खिचड़ी और इंस्टेंट खिचड़ी में काम कर चुकी हैं।

फिल्मों में भी दिया योगदान:
गुजरात की बाला दिशा ने सिर्फ टीवी शोज में ही नहीं बल्कि बॉलीवुड की फिल्मों में भी योगदान दिया।’कमसिन : द अनटच्ड’ (1997), ‘फूल और आग’ (1999), ‘देवदास’ (2002), ‘मंगल पांडे : द राइजिंग’ (2005), ‘सी कंपनी’ (2008) और ‘जोधा अकबर’ (2008) में दिशा ने काम किया है।

कई अवार्ड जीते:
दिशा को अपने पढाई के दौरान ही इनाम जितने की आदत सी हो गई थी। उन्होंने अपनी इस आदत को टीवी जगत में भी बनाए रखा। दिशा अब तक 10 से ज्यादा टेली अवॉर्ड्स जीत चुकी हैं।