बॉलीवुड एक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह जो इस इंडस्ट्री में करीब 10 फिल्में पुरानी है उनके पास फिलहाल कोई फिल्म नहीं है। चित्रांगदा, डायरेक्टर कुशान नंदी, जो की जानेमाने फिल्ममेकर प्रीतिश नंदी के बेटे हैं उनकी फिल्म ‘बाबुमोशाय बंदुकबाज़’ में काम कर रहीं थी और उनके साथ एक्टर नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी भी मुख्या भूमिका में थे लेकिन फिल्म के शूटिंग के दौरान ऐसा कुछ हुआ जिस वजह से चित्रांगदा ने फिल्म को बीच में ही छोड़ दिया। Also Read - Nawazuddin Siddiqui की Netflix फिल्म Serious Men के बारे में है ये है अनुसनी बातें, बॉलीवुड ड्रग्स...

Also Read - नवाजुद्दीन सिद्दीकी की पत्नी ने लगाया ‘रेप’ और ‘धोखाधड़ी’ का आरोप, एक्टर के भाई शमास जाएंगे कोर्ट

इस फिल्म की शूटिंग लखनऊ में चल रही है। ताज़ा खबर ये है की फिल्म को 6 दिन शूट करने के बाद चित्रांगदा ने फिल्म को बीच में ही छोड़ दिया। और इसकी वजह सेक्स सीन बताई जा रही है। खबर है की फिल्म ‘बाबुमोशाय बंदुकबाज़’ के एक सीन में नावाज़, चित्रांगदा को खींच कर बेड पर लेकर जाते हैं और उन्हें महसूस होता है की उन्हें कोई देख रहा है। इस सिन को शूट करने के दौरान डायरेक्टर फर्स्ट टेक से खुश नहीं थे और उन्होंने चित्रांगदा को कहा की वो नवाज़ के ऊपर चढ़ जाए और टांगे रगड़कर सेक्स करें। Also Read - नवाजुद्दीन सिद्दीकी पर पत्नी आलिया ने लगाए बलात्कार और धोखाधड़ी के गंभीर आरोप, दर्ज कराई शिकायत

डायरेक्टर का आर्डर सुनते ही चित्रांगदा भड़क उठी और कहा की वो ऐसा कैसे पूरे क्रू के सामने ऐसा कह सकते हैं। डायरेक्टर ने फिर इस बारे में चित्रांगदा से अकेले में बात करनी चाही लेकिन वो नहीं मानी। उनका मानना था की जब वो सबके सामने ऐसा कह चुके हैं तो अकेले में बात करने का क्या फायेदा।चित्रांगदा वहां से रोते हुए बाहर निकली, नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी से बात की और मुंबई लौट गयी। (नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी पर छेड़खानी और मारपीट का मामला दर्ज)

कुशान का इस मामले में कोई बयान नहीं आया है लेकिन मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उनके एक दोस्त ने इन सभी आरोपों को गलत बताया है। वो कहते हैं की “चित्रांगदा सीन के दौरान लगातार बहस किए जा रही थीं। हम कोई इरोटिक फिल्म नहीं बनाते। डायरेक्टर का काम होता है कि वह एक्टर से अच्छे से अच्छा शॉट निकलवा सके। चित्रांगदा का परफॉर्मेंस अच्छा नहीं था।फिल्म को सफर करना पड़ रहा था, इसलिए हमने उन्हें निकाल दिया। उन्हें बहुत घमंड है और वे न केवल स्क्रिप्ट बदलवाना चाहती थीं। बल्कि सेट पर भी अक्सर देरी से आ रही थीं।