नई दिल्ली: बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज (Jacqueline Fernandez) को करोड़पति ठग सुकेश चंद्रशेखर के खिलाफ दर्ज मनी लॉन्ड्रिंग (Sukesh Chandrasekhar Case) रोकथाम मामले में 50 सवालों का सामना करना पड़ेगा. गवाह के तौर पर जैकलीन अपना बयान दर्ज कराएगी. यह पूछताछ का एक और दौर होगा. जैकलीन को पहले संबंधित अथॉरिटी ने मुंबई एयरपोर्ट पर रोका था. मुंबई एयरपोर्ट पर उनसे घंटों पूछताछ की गई और फिर उन्हें छोड़ दिया गया. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सोमवार को एक बार फिर उन्हें चल रही जांच में शामिल होने के लिए समन भेजा. वह बुधवार को ईडी के सामने पेश होंगी. ईडी के अधिकारी केंद्र दिल्ली में एमटीएनएल कार्यालय में उसका बयान दर्ज करेंगे. पूछताछ पांच घंटे से अधिक समय तक चल सकती है. ईडी के अनुरोध पर संबंधित प्राधिकरण द्वारा अभिनेत्री के खिलाफ एक एलओसी (लुक आउट सकरुलर) जारी किया गया था. एजेंसी को संदेह था कि वह देश छोड़कर भाग सकती है और इसलिए उन्होंने संबंधित प्राधिकरण को एक पत्र लिखा था.Also Read - Birthday: Shruti Haasan पैरेंट्स की शादी से पहले हुईं थी पैदा, स्कूल में रखा था नकली नाम-Unknown Facts

रविवार शाम वह दिल्ली आने के लिए फ्लाइट पकड़ने ही वाली थी कि उन्हें मुंबई एयरपोर्ट पर रोक दिया गया. ईडी ने शनिवार को पीएमएलए कानून के तहत आरोपपत्र दाखिल किया था जिसमें जैकलीन समेत कुछ बॉलीवुड अभिनेताओं को गवाह बनाया गया था. अदालत ने आरोपपत्र दाखिल होने के तुरंत बाद उसका संज्ञान लिया था और एजेंसी से सभी आरोपियों को आरोप पत्र की प्रति उपलब्ध कराने को कहा था. Also Read - मनीष मल्होत्रा की पार्टी में करण जौहर..मलाइका...करीना कपूर ने खूब किया एन्जॉय, बेबो को डगमगाता देख लोगों ने किया ट्रोल

चार्जशीट मामले में अगली तारीख 13 दिसंबर है. ईडी के अधिकारी इस मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं. Also Read - OTT Release This Week: इस हफ्ते मिलेगा एंटरटेनमेंट का फुल डोज़, इन फिल्म और सीरीज से होगा वीकेंड सॉर्टेड

इनपुट-आईएएनएस