लेखक व फिल्म निर्माता महेश भट्ट का कहना है कि वह एक किताब में अपने जीवन का सच बताना चाहते हैं. भट्ट ने सोमवार को यहां डीनो मोरिया के साथ अर्रिटा चक्रवर्ती सेनगुप्ता के उपन्यास ‘इंट्रोस्पेक्शन’ के विमोचन में भाग लिया. आत्मकथा लिखने की योजना के बारे में पूछे जाने पर भट्ट ने कहा, “मैंने जो काम किया, वह मेरे निजी जीवन से प्रेरित था. मैंने अपने जीवन पर आधारित फिल्में बनाईं. मुझे लगता है कि पहले हमें इसे लिखना चाहिए. निश्चित रूप से, मैं एक किताब के रूप में अपने जीवन का सच प्रकट करना चाहता हूं.” Also Read - Veteran actor Sadashiv Amrapurkar dead

‘जख्म’ और ‘दिल है कि मानता नहीं’ जैसी फिल्मों का निर्देशन कर चुके भट्ट ने कहा कि वह पहले ही लेखक के साथ किताब पर काम कर रहे हैं, जो एक पुस्तक के रूप में उनके जीवन की यात्रा को पेश करेगी.

दिग्गज फिल्म निर्माता ने कहा कि वर्तमान में युवा लेखकों को प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है.

उन्होंने अपनी आगामी फिल्म ‘सड़क 2’ का खुलासा करने से इंकार कर दिया है. यह वर्ष 1991 की फिल्म ‘सड़क’ का रीमेक है.