एक्टर: अक्षय कुमार, श्रुति हासन

डायरेक्टर: क्रिश

रेटिंग: * *

अक्षय कुमार बॉलीवुड के एक ऐसे स्टार हैं जिनकी फिल्म हर दुसरे महीने रिलीज़ होती है। कुल मिलाकर अक्षय साल में 4-5 फिल्में रिलीज़ कर ही लेते हैं। जिनमेसे कुछ पिट जाती हैं और कुछ हिट हो जाती हैं। ऐसे ही ढेर सारी फिल्मो में से एक है उनकी ‘गब्बर इज बैक’ जिसे इस शुक्रवार रिलीज़ किया गया।

अगर आप ये सोच कर फिल्म देखने जा रहे है की शोले के गब्बर का इस फिल्म से लेना देना है तो बिलकुल भी मत जाइये क्योंकि उस गब्बर का इस गब्बर से दूर दूर तक कोई वास्ता नहीं है, बस पुराने गब्बर के कुछ डायलॉग को अलग ढंग से इस फिल्म में पेश किया गया है। साथ ही ये भी बता दें की फिल्म अक्षय की बाकी फिल्मों से कुछ ख़ास अलग नहीं है। वही घिसीपिटी कहानी जो हम कई बार बड़े परदे पर देख चुके हैं।

गब्बर यानि अक्षय कुमार फिल्म में भ्रष्टाचार के खिलाफ इस फिल्म में लड़ रहे हैं। वो एक टीम बनाते हैं जो भ्रष्ट लोगो को किडनैप करती है और उनका मर्डर कर बीच चौराहे पर लटका देती है साथ ही एक मेसेज वाला CD मीडिया और पुलिस स्टेशन में भेज देती हैं। इसके अलावा फिल्म में कुछ भी नहीं हैं। ये फिल्म कुछ महीने पहले आई फिल्म ‘ऊँगली’ की कॉपी लगती है।

अक्षय कुमार की एक्टिंग हमेशा की तरह ही है। वही एक्शन सीन्स, वही दमदार आवाज़ में डायलॉग। फिल्म की हेरोइन श्रुति हासन का फिल्म में कोई काम ही नहीं है। वो फिल्म में अक्षय कुमार की गर्लफ्रेंड से ज्यादा उनकी बेटी लगती है। श्रुति को फिल्म में सिर्फ शोपीस की तरह रखा गया है।

फिल्म का म्यूजिक अच्छा है। ‘तेरी मेरी कहानी’ और ‘आओ रजा’ पहले से ही हिट हो चूका है। कूल मिलकर फिल्म सिर्फ अक्षय के फैन्स के लिए ही बनी है।