कहते है हर दिन 20 मिनट संगीत सुनने से रोजमर्रा की होने वाली कई बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है. विज्ञान भी इस बात को अब मानने लगा है. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे गीत के बारे में बताने जा रहे है. जो जान बचाता नहीं बल्कि जान ले लेता है. कहने का अर्थ ये है कि इस गाने को सुनने के बाद कई लोगों ने आत्महत्या कर ली. जी हां, हंगरी के संगीतकार रेजसो सेरेज ने एक ऐसा गाना बनाया जिसे दुनिया सबसे मनहूस गीत कहा जाता है. क्योंकि ग्लूमी संडे नाम के इस गाने को जो भी सुनता वो मौत को गले लगा लेता था.

दरअसल 1933 में लेस्ज्लो जवोर के लिखे गीत सैड संडे को संगीतकार रेजसो सेरेज ने बनाया. माना जाता है कि ये गीत सुनने के बाद हंगरी में अनेकों मौतें हुई. करीब 18 मौतें इस गीत से किसी न किसी रूप से जोड़ी भी गयीं. किसी ने इस गाने सुनने के बाद आत्महत्या कर ली तो किसी के डेथ नोट में इस गाने का जिक्र मिला. हालांकि इस खबर में कितनी सच्चाई है इसका दावा हम नहीं करते लेकिन उस समय यह गाना इतना बदनाम हो चुका था कि 1941 में बीबीसी सहित कई देशों ने किसी न किसी कारण से इस गाने पर बैन लगा दिया और 62 वर्षों बाद 2003 में इससे बैन हटाया गया.

ये एक रोमांटिक सांग है जिसके बोल सुनने वाले के दिल को छू लेने वाले हैं. इस गाने में प्रेमी मर जाता है पर प्रेमिका बाद में भी उससे मिलने की ख्वाहिश करती है. इस गाने को सुनने के बाद लोग इसमें बह जाते है और वो काम कर बैठते है जिसके कारण ये गीत बदनाम हो गया.