download (2)

मोहित सूरी द्वारा निर्देशित हमारी अधूरी कहानी अपनी स्टोरी और स्टार कास्ट को लेकर काफी चर्चा में रही और १२  जून को सिल्वर स्क्रीन पर दर्शकों के लिए रिलीस की गई. वैसे तो इसके प्रमोशन के लिए निर्माता महेश भट्ट की टीम ने एड़ी-चोटी का जोर लगाया, पर बड़े परदे पर हमारी अधूरी कहानी की कहानी का जोर नहीं चल पाया और फिल्म दर्शकों की उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी.

फिल्म की कहानी में वसुधा (विद्या बालन) की शादी हरी (राजकुमार राव) से हो जाती है. शादी होने के बाद हरी, वसुधा और उसके एक महीने के बेटे ‘सांझ’ को छोड़कर चला जाता है. ५ साल अकेले रहने के बाद वसुधा की मुलाक़ात आरव रुपरैल (इमरान हाश्मी) से होती है और उन दोनों के बीच प्यार हो जाता है. इंटरवल के पहले आरव और वसुधा की लाइफ में हुई ट्रेजेडी दिखाई गई है. वहीँ इंटरवल के बाद हरी की एंट्री के बाद वसुधा और आरव दोनों को बिछड़ते हुए दिखाया गया है. फिल्म की पूरी कहानी फ्लैशबैक में दिखाई गई है. इसके आलावा मूवी में औरतों के खिलाफ परंपरा के नाम पर हो रहे अत्याचारो के खिलाफ सन्देश भी दिया गया है, पर फिल्म की कहानी इस सन्देश को अच्छी तरह से दर्शकों तक नहीं पहुंचा सकी.

विद्या  बालन और राजकुमार राव वैसे तो अपने अभिनय के लिए काफी प्रचलित हैं, पर इस फिल्म में वे अपने अभिनय का जादू नहीं बिखेर पाए. वहीँ इमरान अपने अभिनय से दर्शकों का दिल जितने में कामयाब रहे. इसके आलावा फिल्म के डायलॉग काफी चीजी और आम जनता की समझ के परे थे.

हलाकि महेश  भट्ट कि अन्य फिल्मो की तरह इस फिल्म का संगीत काफी भावुक कर देनेवाला और उम्दा है. फिल्म का संगीत मिथुन और जीत गांगुली द्वारा दिया गया है. मूवी के बड़े परदे पर आने से पहले ही इसका संगीत लोगों ने काफी पसंद किया. कुल मिलकर ये फिल्म दर्शकों का दिल जीत पाने में नाकामयाब रही.