प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को अचानक एक बड़ा फैसला देश को सुना दिया कि आधी रात से ही 500 और 1000 के नोट बंद हो जाएंगे। इस नोट-बंद के फैसले की वजह कालेधन पर लगाम कसना है। इस ऐतिहासिक फैसले का असर न सिर्फ आम बल्कि ख़ास लोगों पर भी पड़ता दिख रहा है। हाल ही में ऐसी कई ख़बरें आई हैं जब 500-1000 के नोट ठिकाने लगाने की कोशिश की गई है। अब इसी को लेकर एक बड़ी ख़बर आई है कि ‘बाहुबली’ के निर्माताओं के घर इनकम टैक्स का छापा पड़ा है जिसमें 60 करोड़ रुपये मिले हैं।

ख़बर है कि ‘बाहुबली’ फिल्म के बन रहे दूसरे भाग के लिए हाल ही में फिल्म के निर्माताओं ने वितरकों से एडवांस के रूप में भारी रकम ली थी। इसकी भनक शायद आयकर विभाग को लग गई और फिल्म के निर्माताओं के हैदराबाद स्थित घरों में शुक्रवार को छापा मारा। फिल्म के निर्माता शोबु यारलागड्डा और प्रसाद देवीनेनी के घरों के साथ ऑफिसों में भी छापे हुए जिनमें कथित रूप से 500 और 1000 के करीब 60 करोड़ के नोट रखे गए थे।

मीडियो रिपोर्ट्स की मानें तो इनकमटैक्स विभाग को यहां बंद हो चुके 1000 और 500 के नोटों को ठिकाने लगाने की खबर मिली थी। तेलुगू प्रोड्यूसर-डायरेक्टर तम्मारेडी भारद्वाज ने इनकम टैक्स विभाग के इस छापेमारी की निंदा करते हुए कहा है कि इनकम टैक्स विभाग की ओर से प्रोड्यूसर को शि‍कार बनाया गया है। यहां तक कि इंडस्ट्री में कोई भी प्रोड्यूसर इस तरह‍ के गैर कानूनी कार्यों में शामिल नहीं है। उन्होंने ये भी कहा कि प्रोड्यूर्स सभी डॉक्यूमेंट्स को मेंटेन करके रखते हैं।’ इसे भी पढ़ें – तो इस वजह से प्रियंका चोपड़ा नहीं करना चाहतीं शादी!

हालांकि फिल्म कारोबार से जुड़े लोगों का कहना है कि इनकम टैक्स विभाग के इस छापे से ‘बाहुबली 2’ के काम में कोई दिक्कत नहीं होगी। गौरतलब है कि आपको बता दें साल 2015 में आई ‘बाहुबली’ तेलुगु और तमिल में एक साथ रिलीज हुई थी और भारत की अब तक की सबसे बड़ी हिट फिल्म साबित हुई थी। फिल्म ने वर्ल्डवाइड 650 करोड़ का कारोबार किया था। फिल्म को हिंदी में भी डब किया गया था। फिल्म का सीक्वल अगले साल 28 अप्रैल को रिलीज होने जा रही है। जिसके डिस्ट्रीब्यूशन राइट्स पहले ही करोड़ों में बिक चुके हैं।