नई दिल्ली। दो साध्वियों से बलात्कार के जुर्म में 20 साल की सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम के बारे में बॉलीवुड की कंट्रोवर्सी क्वीन राखी सावंत ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं. ज़ी रीजनल चैनल्स के सीईओ जगदीश चंद्र को दिए एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में राखी सावंत ने सभी सवालों के बड़ी बेबाकी से जवाब दिए. बाबा राम रहीम पर फिल्म बनाने को लेकर राखी ने बताया कि साढ़े तीन चार साल से उनकी राम रहीम और हनीप्रीत से जान पहचान थी. बाबा राम रहीम से कई बार मुलाकात भी हुई थी. बाबा ने पॉलिटिक्स ज्वाइन करने की सलाह भी दी थी.

डेरे लेकर गया था राम रहीम
राखी ने बताया कि बाबा उन्हें सिरसा लेकर गए. वे डेरा के अंदर बने गुफा में भी गई हैं. बाबा ने अपने जन्मदिन पर उन्हें डेरा बुलाया था. वहां बाबा से मेरी नजदीकी देख कर हनीप्रीत डर गई कि कहीं मैं उसकी सौतन न बन जाऊं. उन्होंने बताया कि उन्हें नहीं मालूम था कि बाबा रेप करता है और लोगों को नपुंसक बनाता है, लेकिन जब पता चला तो मैं दंग रह गई.

बाबा से मेरी नजदीकी देख कर हनीप्रीत डर गई कि कहीं मैं उसकी सौतन न बन जाऊंः राखी सावंत

राम रहीम पर बन रही फिल्म की शूटिंग शुरू
राखी ने बताया कि बाबा पर बन रही फिल्म की शूटिंग दिल्ली में चल रही है. उन्होंने बताया कि हनीप्रीत का नाम लेकर उनके पास फोन आया था. वो कह रही थी कि आप मेरी दोस्त हो फिर क्यों फिल्म बना रही हो. राखी ने बताया कि फिल्म में बाबा जेल में चक्की पिस रहा है. फिल्म की कहानी में हनीप्रीत की मौत हो जाती है. राखी ने बताया कि बाबा पर बन रही फिल्म दिसंबर-जनवरी तक तैयार हो जाएगी.

राखी ने बताया कि हनीप्रीत बचपन से वहां थी और बाबा को उससे प्यार हो गया. बाबा का तीसरी आंख खुलना उनका आशीर्वाद था. हनीप्रीत कहती थी कि बाबा की तीसरी आंख तुम पर खुल गई तो तुम्हारा कल्याण हो जाएगा. बाबा के आश्रम में आदमी कम नजर आते थे लड़कियां और महिलाएं नजर आती थी. बाबा खुद को कृष्ण का अवतार समझते थे और लड़कियां गोपियां.

फिर मुसीबत में फंसी संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती', करणी सेना ने जलाए फिल्म के पोस्टर

फिर मुसीबत में फंसी संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती', करणी सेना ने जलाए फिल्म के पोस्टर

राखी ने बताया कि फिल्म में इन किरदारों को निभाने के लिए लोगों से अप्रोच किया गया है. उन्होंने कहा कि बाबा के जेल जाने के बाद उनसे मिलने का मन किया सोचा कि उनके लिए अच्छा खाना लेकर जाऊं पर इरादा बदल दिया. फिल्म के लिए फाइनांसर का इंतजार हो रहा है. राखी ने बताया कि एक बार बाबा से मिलने होटल गई थी वहां छोटे-छोटे कपड़ों में लड़कियों को देख कर मेरी आंखें खुली रह गई थी.

मैं हनीप्रीत से ज्यादा खूबसूरत हूं
हनीप्रीत खूबसूरत थी तो मै उससे ज्यादा खूबसूरत हूं. उसे टोपी और बड़ा चश्मा लगाने का बड़ा शौक था. शार्ट ड्रेस पहनने का शौक था. वो बचपन से ही वहां थी और बाबा को उससे प्यार हो गया. वहां पर ऐसा होता है ना कि लड़की को सप्लाई किया जाता है. एक बंदी थी…बार-बार पटा-पटा कर अंदर ले जाती थी. एक बार दरवाजा लॉक हो गया, फिर लड़की वहां से अशुद्ध होकर ही बाहर ही आती थी.

शाहरुख खान की खोज है राखी सावंत
राखी सावंत ने कहा कि अभिनय के फील्ड में करियर बनाने के लिए उन्हें बहुच चप्पल घिसने पड़े हैं. उन्होंने बताया कि वे शाहरुख खान की खोज हैं. फराह खान और शाहरुख खान की वजह से उनके करियर को मुकाम हासिल हुआ. राखी ने पॉलिटिक्स में एंट्री को लेकर बताया कि वो अपने इलाके में सामाजिक काम करती रही हैं, वहीं के लोगों के कहने पर उन्होंने राजनीति में कदम रखा. राखी ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी फैन हैं.