दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी कपूर की फिल्म धड़क को लोगों ने पसंद किया है. अगर मराठी फिल्म ‘सैराट’ से तुलना न की जाए तो फिल्म अपने आप में एक अच्छी कहानी कहती है. इस फिल्म में जाह्नवी कपूर के अपोजिट ईशान खट्टर हैं. लेकिन जाह्नवी कपूर का इस फिल्म में काम करना कोई आसान बात नहीं थी. ‘धड़क’ सिर्फ एक फिल्म ही नहीं बल्कि जाह्नवी का एक सपना थी और उनकी मां श्रीदेवी बेटी के इस सपने को सच होता देखना चाहती थी. लेकिन अफसोस ऐसा हो नहीं सका. जाह्नवी की पहली फिल्म देखने से पहले ही वे चल बसीं. मां की अचानक मौत ने जाह्नवी को तोड़ दिया. उनका पूरा परिवार सदमे में चला गया. लेकिन ये फिल्म ही थी जिसने जाह्नवी को इस दुख से बाहर आने में मदद की. फिल्म की शूटिंग की वजह से उनका ध्यान डायवर्ट हुआ और वे इस मुश्किल समय से बाहर निकल पाईं. हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में जाह्नवी ने बताया कि ‘मुझे अभी भी इस बात पर यकीन नहीं हुआ है. मैंने खुद को इतना सोचने का वक्त दिया ही नहीं. मैं और मेरा परिवार अभी तक इस बात को स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं कि मां अब इस दुनिया में नहीं है.

A post shared by Janhvi Kapoor (@janhvikapoor) on

जाह्नवी ने बताया, ‘मैं तो अगले दिन ही (अंतिम संस्कार के) ही शूट पर जाना चाहती थी.लेकिन शूट कैंसिल हो गया.’ उन्होंने भावुक होते हुए ये भी कहा कि अगर मैं काम पर वापस न जाती तो मानसिक संतुलन खो देतीं. अगर धड़क ने होती तो मेरी जिंदगी में आगे बढ़ने का कोई उद्देश्य न होता.

bit.ly/DhadakTitleTrack

A post shared by Janhvi Kapoor (@janhvikapoor) on

बता दें, जाह्नवी की पहली फिल्म ‘धड़क’ की सफलता से गर्व महसूस कर रहे उनके पिता और फिल्मकार बोनी कपूर ने उनसे कहा है कि वह अपने काम के प्रति ईमानदार और मेहनती बनी रहे. कपूर ने एक बयान में यहां कहा , ‘मुझे यकीन था कि सब कुछ बहुत अच्छा होगा. मैंने जाह्नवी से कहा कि वह आगे भी अभी की तरह सादगीपूर्ण, ईमानदार, लक्ष्य केंद्रित और मेहनती रहे. बोनी कपूर और श्रीदेवी की छोटी बेटी भी एक्टिंग करना चाहती हैं. इसका खुलासा खुद पापा बोनी कपूर ने ही किया है.

Khushi Kapoor, Janhvi Kapoor

बोनी कपूर ने कहा, ‘मैं नहीं कहूंगा कि मैंने जान्हवी को मोटिवेटेड किया, हां लेकिन मैंने उसे एनकरेज जरूर किया कि वो जो करना चाहती है करे. किसी की इच्छा को क्यूं दबाया जाए. जैसे, मुझे जब तक सलमान खान ने नहीं बताया था कि अर्जुन में एक्टर बनने के गुण है, तब तक मुझे नहीं पता था. दूसरी ओर मेरी बड़ी बच्ची अंशुला का पढ़ाई की ओर ज्यादा झुकाव है और खुशी पहले मॉडल बनना चाहती थी. लेकिन अब उसका ध्यान एक्ट्रेस बनने की ओर हो गया है.’

 

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.