नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) इन दिनों अपने बयानों की वजह से खूब सुर्ख़ियों में हैं. किसान आंदोलन को लेकर कंगना ने कई पंजाबी कलकारों और बॉलीवुड हस्तियों को घेरा है. इसी बीच कंगना रनौत ने उनके खिलाफ भेजे गए कानूनी नोटिस की बात पर अब अपनी प्रतिक्रिया दी है. किसी एक खबर में उनके खिलाफ लीगल नोटिस जारी किए जाने की बात पर अपनी राय जाहिर करते हुए कंगना ने अपने सत्यापित ट्विटर अकांउट से ट्वीट किया, “फिल्म माफिया ने मुझ पर कई मामले दर्ज कराए हैं. बीती रात जावेद अख्तर ने एक और मुकदमा दर्ज किया है, महाराष्ट्र सरकार तो हर एक घंटे में केस दायर कर रही है और अब पंजाब में कांग्रेस भी इस टोली में शामिल हो गई है..लगता है मुझे महान बनाके ही दम लेंगे.” Also Read - VIDEO: कंगना रनौत ने किसान प्रदर्शन को समर्थन देने वाले लोगों को कहा 'आतंकवादी', बोलीं- जेल भेज दो..

इसके अलावा, दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने भी शुक्रवार को कंगना को एक कानूनी नोटिस भेजा गया है, जिसमें कृषि कानूनों को रद्द किए जाने को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों और कार्यकर्ताओं के खिलाफ कंगना द्वारा किए गए ‘अपमानजनक ट्वीट्स’ को लेकर उनसे मांफी की मांग की गई है.

कमेटी के प्रमुख मनजिंदर सिंह सिरसा ने ट्वीट करते हुए कहा है, “एक किसान की बूढ़ी मां को एक ऐसी महिला के रूप में बताया जाना, जो सौ रूपये में उपलब्ध हो जाती हैं, कंगना के इस अपमानजनक ट्वीट के चलते हमने उन्हें कानूनी नोटिस भेजा है. वह किसानों के प्रदर्शन को राष्ट्र-विरोधी कह रही हैं. हम किसानों के विरोध पर उनकी असंवेदनशील प्रतिक्रियाओं के चलते उनसे बिना किसी शर्त के मांफी की मांग करते हैं.”

कंगना ने हाल ही में शाहीन बाग के प्रदर्शन में शामिल होने वालीं बिलकिस बानो के साथ एक बुजुर्ग महिला की तस्वीर को साझा करते हुए बताया यह सौ रुपये के लिए हर प्रदर्शन में शामिल हो जाती हैं.