मुंबई: अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने शिवसेना (Shivsena) की अगुवाई वाली महाराष्ट्र सरकार के साथ चल रहे अपने टकराव के बीच एक रहस्यमयी पोस्ट लिखी है. रविवार को कंगना ने ट्वीट किया, “इन अव्यवस्था के बीच कुछ ऐसे ठहराव आते हैं जो मुझे घेर लेती हैं. मैं कहाँ हूं? मैं नहीं जान पाती हूं. मुझे अब तक जिन्दगी में जो मुश्किलें आईं उनसे मैं मुश्किल से निपट पाई लेकिन इतना कुछ करने के बाद भी फिर से मेरे सामने चुनौतियां आ खड़ी हुई हैं.” इसके साथ उन्होंने अपनी एक तस्वीर भी पोस्ट की जिसमें वह विचारों में डूबी दिखाई देती हैं. Also Read - कंगना रनौत को जुर्माने की रकम नहीं देना चाहती BMC, बंबई हाईकोर्ट में दी यह दलील...

अभिनेत्री और राज्य सरकार के बीच तनाव की शुरूआत तब हुई जब उन्होंने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से की और शहर की पुलिस पर निशाना साधा. इस बीच 9 सितंबर को केंद्र सरकार द्वारा दी गई वाई-प्लस सुरक्षा के बीच वह मुंबई पहुंची. Also Read - कंगना के बयान पर एक्ट्रेस श्वेता त्रिपाठी ने दिया ये रिएक्शन, बोलीं- यहां कोई भी जबरदस्ती हमारे मुंह में ड्रग्स...

बता दें कि कंगना रनौत ने आज महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी से मुलाक़ात की थी. इस दौरान कंगना रनौत ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में जो हुआ, सभी बातों से मैंने महाराष्ट्र के गवर्नर को बताया है. मैंने मेरे साथ हुए अन्याय की बात बताई है. मुझे उम्मीद है कि मुझे न्याय मिलेगा और युवा लड़कियों के साथ सभी नागरिकों का यकीन व्यवस्था में लौटेगा. मैं सौभाग्यशाली हूँ कि राज्यपाल ने मुझे अपनी बेटी की तरह सुना. Also Read - दर्द कम करने के लिए सुशांत की बहन श्वेता ने किया ये काम, बोलीं- भाई तो है नहीं अब...

कंगना रनौत के दफ्तर का एक हिस्सा बीएमसी ने तोड़ दिया था. इससे पहले शिवसेना और कंगना के बीच खूब बयानबाजी हुई थी. बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत केस में मुखर रहने वालीं कंगना ने मुंबई की तुलना PoK से कर दी थी. इसके बाद शिवसेना नेताओं ने कंगना के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. केंद्र सरकार से Y+ श्रेणी की सुरक्षा मिलने के बाद 9 सितंबर को कंगना मुंबई पहुंची, लेकिन उसी दिन BMC ने उनके दफ्तर पर बुलडोजर चढ़ा दिया. इसे लेकर कंगना ने उद्धव ठाकरे पर हमला बोला था.