अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और शिवसेना (Shivsena) की अगुवाई वाली महाराष्ट्र सरकार के बीच जुबानी जंग जारी है. इसी बीच आज वह मनाली अपने घर वापस लौट रही हैं. कंगना ने ट्वीट कर बताया कि वे Y+ सिक्योरिटी के साथ अपने घर मनाली जा रही हैं. वे कुछ दिन के लिए मुंबई आई थीं. Also Read - Mumbai: शिवसेना MLA ने ठेकेदार को सड़क पर बिठाया, फ‍िर ऊपर डलवाया कचरा, वीड‍ियो वायरल

इसी वजह से बीएमसी ने उन्हें होम क्वारनटीन से छूट दी थी.रनौत ने ट्वीट किया, ” भारी मन से मुंबई छोड़ रही हूं. इन दिनों जिस तरह से मुझे डराया गया, लगातार हमले किए गए और मुझे अपशब्द कहे गए, मेरे दफ्तर के बाद मेरे घर को तोड़ने की कोशिशें हुईं और मेरे आसपास हथियारबंद सुरक्षा कर्मी रहे,उसे देखते हुए मैं कहूंगी कि पीओके से (शहर की) तुलना करना एकदम सही था.” Also Read - Mumbai Local Trains Update: मुंबई में भारी बारिश से हाल बेहाल, सेंट्रल रेलवे ने इन रूट्स पर कैंसिल की लोकल ट्रेनें...

बता दें, जिस दिन कंगना मुंबई पहुंची थी उसी दिन बीएमसी ने अवैध निर्माण के लिए उनके ऑफिस पर बुलडोज़र चला दिया था. Also Read - Disha Patani से Sara Ali Khan नें ऑरेंज बिकिनी में ढाया कहर, कत्ल करने का जुर्म संगीन है

जिससे कंगना को करीब 2 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. कंगना ने इसके वीडियो पर सोशल मीडिया पर शेयर किए थे. इसके बाद रविवार को कंगना ने ट्वीट किया, “इन अव्यवस्था के बीच कुछ ऐसे ठहराव आते हैं जो मुझे घेर लेती हैं. मैं कहाँ हूं? मैं नहीं जान पाती हूं. मुझे अब तक जिन्दगी में जो मुश्किलें आईं उनसे मैं मुश्किल से निपट पाई लेकिन इतना कुछ करने के बाद भी फिर से मेरे सामने चुनौतियां आ खड़ी हुई हैं.” इसके साथ उन्होंने अपनी एक तस्वीर भी पोस्ट की जिसमें वह विचारों में डूबी दिखाई देती हैं.

कंगना रनौत के दफ्तर का एक हिस्सा बीएमसी ने तोड़ दिया था. इससे पहले शिवसेना और कंगना के बीच खूब बयानबाजी हुई थी. बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत केस में मुखर रहने वालीं कंगना ने मुंबई की तुलना PoK से कर दी थी. इसके बाद शिवसेना नेताओं ने कंगना के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. केंद्र सरकार से Y+ श्रेणी की सुरक्षा मिलने के बाद 9 सितंबर को कंगना मुंबई पहुंची, लेकिन उसी दिन BMC ने उनके दफ्तर पर बुलडोजर चढ़ा दिया. इसे लेकर कंगना ने उद्धव ठाकरे पर हमला बोला था.