बॉलीवुड डायरेक्‍टर करण जौहर (Karan Johar) को अपनी लड़कियों जैसे हरकत करने के लिए ताने सुनने पड़ते थे. लड़कियों जैसे चलना, बोलना, नाचने के लिए करण को सोशल मीडिया पर लोग गालियां तक निकाल देते थे. यही नहीं एक इंटरव्यू में तो करण ने बताया था कि वे जब भी सुबह सोशल मीडिया पर एक्टिव होते थे तो यूजर्स उन्हें भद्दी गालियां निकालते थे और छक्का तक कहते थे. इससे वे बहुत दुखी हो जाते थे. हाल ही में करण ने एक इवेंट में बताया कि उनकी आवाज भी लड़कियों की तरह पतली थी जिसकी वजह से लोग उनपर हंसते थे. वे मुझे बोलते थे-लड़कियो जैसे मत बोलो. वैसे मत चलो. वैसे ठुमके मत लगाओ. इन सबसे मैं दुखी हो गया था और 15 साल की उम्र में स्पीच थैरेपिस्ट के पास इलाज करवाने चला गया था. डॉक्टर ने मुझे ट्रेनिंग दी. मैंने उन्हें कहा कि मेरी आवाज लड़कों के जैसे कर दो. इसे ठीक करने में लगभग 3 साल का वक्त लगा.


View this post on Instagram

Shining on!!! Styled by @nikitajaisinghani in #ktz 📷 @rahuljhangiani

A post shared by Karan Johar (@karanjohar) on


हालांकि करण जौहर ने अपने घर में ये बात नहीं बताई थी कि वे अपनी आवाज ठीक करवाने के लिए डॉक्टर के पास जाते हैं. करण ने ये भी बताया कि उन्हें फिल्‍म सरगम के ढपली वाले गाने पर डांस करना बहुत पसंद था. इस गाने पर वो प्रैक्टिस करते थे. लेकिन वे हमेशा जया प्रदा जी का पार्ट निभाते थे.

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.