सु्प्रीम कोर्ट की 5 जजों की सविंधान पीठ ने आईपीसी की धारा 377 गैरकानूनी करार दिया है. कोर्ट ने कहा कि समलैंगिकता अपराध नहीं है. इसके अलावा कोर्ट ने साफ किया कि अंतरंगता और निजता निजी पसंद है लिहाजा दो बालिगों की सहमति से बनाया गया अप्राकृतिक संबंध जायज है. कोर्ट का ये फैसला आने के बाद बॉलीवुड से भी इसके रिएक्शन आने शुरू हो गए हैं. फेमस डायरेक्टर करण जौहर ने इससे संबधित एक ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने कोर्ट कै फैसले का स्वागत किया है. Also Read - करण जौहर के बेटे यश ने कहा, 'COVID-19' को भगा सकता है बॉलीवुड का ये स्टार

करण ने ट्वीट किया, ”ऐतिहासिक फैसला!! आज गर्व महसूस रह रहा हूं. समलैंगिकता को अपराध की श्रेणी से हटाने के लिए..#section377..ये फैसला मानवता के लिए मिसाल पेश करता है. आज देश को उसके प्राण वापस मिल गए हैं.” वैसे करण ने सिर्फ ये फैसला आने के बाद इस बारे में अपनी राय जाहिर नहीं की है. वे समय-समय पर कई सोशल प्लेटफॉर्म के जरिए इस बारे में अपनी सहमति जता चुके हैं.

इसके अलावा करण कई टीवी शो में भी इस बारे में अपने विचार सामने रख चुके हैं. बता दें कि चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अगुवाई में एक संवैधानिक बेंच पिछली 10 जुलाई से इस मामले में सुनवाई शुरू की थी. इसके बाद 17 जुलाई को मामले में फैसला सुरक्षित कर लिया गया था. जुलाई महीने में हुई सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि कोई कानून मौलिक अधिकारों के खिलाफ है तो बहुमत की सरकार के इसे रद्द करने के फैसले तक इंतजार नहीं किया जा सकता है.


View this post on Instagram

For the @mw_india cover! Shot by @rohanshrestha #geekchic

A post shared by Karan Johar (@karanjohar) on

संवैधानिक बेंच ने कहा था कि वह धारा-377 को पूरी तरह खारिज नहीं करने जा रहे. वह सिर्फ उस प्रावधान को देख रहे हैं, जिसमें दो बालिगों के समलैंगिक संबंध को अपराध माना जाएगा या नहीं. दरअसल, इस मामले में याचिकाकर्ता मुकुल रोहतगी ने कोर्ट में कहा था कि एलजीबीटीक्यू (लेस्बियन, गे, बाय सेक्सुअल, ट्रांसजेंडर्स, क्वीर) के मौलिक अधिकार प्रोटेक्ट होने चाहिए. किसी से भी जीवन और स्वच्छंदता का अधिकार नहीं लिया जा सकता.

gay1

करण जौहर ने इस फैसले के सपोर्ट में इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट भी शेयर किया है जिसके बाद यूजर्स के कमेंट्स भी आने शुरू हो गए हैं.