मुंबई: सुशांत सिंह के सुसाइड के बाद कहीं गुस्सा और आक्रोश है तो कहीं शोक और सन्नाटा. इस हादसे ने पूरे देश को सकते में डाल दिया में था. बीते दिनों से सोशल मीडिया पर कई तरीके की जंग छिड़ी हुई है. मेन्टल हेल्थ से लेकर नेपोटिज़्म तक की विषय ट्रेंड कर रही हैं. इन्हीं सब चीज़ों से तंग आकर अभिनेत्री कृति सैनन ने इंस्टाग्राम पर एक लंबा पोस्ट लिखा है. Also Read - Rhea Chakraborty Emotional Instagram Post for Boyfriend Sushant Singh: सुशांत के वियोग में रिया का पोस्ट- 'तुम्हें खोने के 30 दिन पूरे हुए मगर पूरी ज़िंदगी बची है तुम्हे प्यार करने के लिए'

इस पोस्ट में उन्होंने मीडिया और सोशल मीडिया यूजर्स सहित लोगों द्वारा सुशांत सिंह राजपूत के निधन पर प्रतिक्रिया को लेकर अपने विचार लिखे हैं. उन्होंने लिखा, “यह अजीब है कि हमेशा ट्रोलिंग, गपशप करने वाली दुनिया अचानक एक बार आपके जाने के बाद आपकी सुंदरता और सकारात्मक पक्षों को बताने लगती है.” Also Read - सुशांत की मौत के एक महीने बाद भी रिया चक्रवर्ती उनकी यादों में बेचैन, बदल दिया अपना WhatsApp DP

कृति ने आगे लिखा, “सोशल मीडिया सबसे ज्यादा झूठा, सबसे विषैला स्थान है और अगर आपने आरआईपी पोस्ट नहीं किया है या सार्वजनिक रूप से कुछ नहीं कहा है, तो आपको शोकाकुल नहीं माना जाता है, जबकि वास्तव में, वे लोग शोक मना रहे होते हैं. ऐसा लगता है कि सोशल मीडिया नई ‘वास्तविक दुनिया’ है . और असली दुनिया नकली हो गई है.” Also Read - सुशांत सुसाइड केस: अब सलमान खान की एक्स मैनेजर से हुई पूछताछ, 5 घंटों तक चला सवालों का सिलसिला

गौरतलब है कि कृति अपने परिवार के साथ 15 जून को दिवंगत अभिनेता के अंतिम संस्कार में उद्योग सहयोगियों के बीच मौजूद थीं. अपने पोस्ट में कृति ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि कैसे मीडियाकर्मियों ने एक स्पष्ट तस्वीर पाने के लिए उनकी कार की खिड़की को पीटा, जब वह सुशांत के अंतिम संस्कार के लिए जा रही थीं.

 

View this post on Instagram

 

There are a lot of thoughts crossing my mind.. A LOT! But for now this is all i wanna say!🙏🏻

A post shared by Kriti (@kritisanon) on

उन्होंने लिखा, “कार की खिड़की को पीटते हुए कहना, ‘मैडम शीशा नीचे करो ना’, ताकि अंतिम संस्कार के लिए जा रहे किसी व्यक्ति की स्पष्ट तस्वीर मिल सके. अंतिम संस्कार एक बहुत ही निजी मामला है. आइए मानवता को पेशे से पहले रखें!” कृति ने आगे लिखा, “मैं मीडिया से अनुरोध करती हूं कि या तो वहां उपस्थित न हों या कम से कम कुछ गरिमा और दूरी बनाए रखें, तारों की चमक और तथाकथित ग्लैमर के पीछे हम भी सामान्य मनुष्य हैं, वही भावना हमारे अंदर है, जो आपके पास है. यह मत भूलो.”

उन्होंने आगे लिखा, “दोष का खेल कभी खत्म नहीं होता .. किसी के भी बारे में बुरी बात करना बंद करें .. गपशप बंद करें .. यह सोचना बंद करें कि आप सब जानते हैं, या आपकी राय सच है. हर कोई एक ऐसी लड़ाई से जूझ रहा है जिसके बारे में आप कुछ नहीं जानते हैं. तो जान लें कि आपके मुंह से निकलने वाली कोई भी नकारात्मकता, किसी भी तरह की ट्रोलिंग, किसी की चुगली यह दिखाती है कि आप क्या हैं, न कि वे क्या हैं. और जबकि हम में से अधिकांश इसे अनदेखा करने या इसे फिल्टर करने या एक गंदे कमेंट से परेशान नहीं होने की कोशिश करते हैं यह अभी भी कहीं न कहीं हमें प्रभावित करता है, दूसरों की तुलना में कुछ अधिक.”