मुंबई: फिल्म निर्माता महेश भट्ट का कहना है कि ‘द साइलेंट हीरोज’ एक अंतर्राष्ट्रीय साहसिक रोमांच फिल्म है और यह पारिवारिक दर्शकों के मनोरंज के लिहाज से एक बढ़िया फिल्म है। फिल्म में 13 बधिर बच्चों ने काम किया है। भट्ट का कहना है कि शारीरिक रूप से अक्षम और जरूरतमंद लोगों के प्रति समाज का असंवेदनशील रवैया और उदासीनता उन्हें क्षुब्ध करता है। यह भी पढ़े:ट्विटर पर दिखा ‘बजरंगी भाईजान’ सलमान खान और ‘रईस’ शाहरुख खान का भाईचारा

उन्होंने कहा, “यह काफी अजीब है कि बधिर लोगों की तरफ दुनिया इस नजरिए से देखती है कि जैसे वे विकलांग, असहाय या पीड़ित हैं। मेरा हमेशा यह विश्वास रहा है कि इस तरह के लोग हमसे ज्यादा काबिल और सक्षम होते हैं। वे हमसे कहीं ज्यादा कुशाग्र होते हैं।”

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि ‘तारे जमीन पर’ और ‘स्टेनली का डिब्बा’ की तरह यह फिल्म भी दर्शकों के दिलों को छू जाएगी और इस तरह के बच्चों की ओर समाज के नजरिए को बदलने में सफल होगी।” फिल्म का टीजर 21 जुलाई को जारी किया जाएगा। फिल्म के सह-निर्माता कमल बीरानी और महेश भट्ट हैं। यह फिल्म सितंबर में रिलीज होगी।