वडोदरा: गुजरात के अंकलेश्वर कस्बे में शनिवार को पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया. इन दोनो ने एक व्यक्ति के साथ इसलिए मारपीट की क्योंकि ‘राजपूत होने के बावजूद’ वह पद्मावत फिल्म देखने जाने की बात कर रहा था. शिकायत दर्ज कराने वाले व्यक्ति वडोदरा के रहने वाले उपेन्द्र सिंह जाधव के अनुसार घटना 24 जनवरी की है, जब वह अंकलेश्वर गया था. Also Read - Star Screen Awards 2018: और ये हैं इस बार के विनर...देखिए पूरी लिस्ट

शिकायत के अनुसार वह एक होटल में बैठा था और वडोदरा के अपने एक मित्र से बात कर रहा था. वह उससे पद्मावत की रिलीज से पहले के हालात पर चर्चा कर रहा था और उसने उसे बताया कि गुजरात में तो फिल्म रिलीज नहीं हो रही है लिहाजा वह मुंबई जाकर फिल्म देखेगा. Also Read - राजस्थान चुनावः 12 फीसदी राजपूत वोटर वसुंधरा से नाराज! दो दर्जन सीटों पर तय करते हैं जीत-हार

जाधव ने पुलिस को बताया कि उस समय वहीं आसपास मौजूद भार्गव सिंह पढियार और रंजीत फुवाद ने उसे बात करते सुन लिया और उसपर यह कहते हुए हमला कर दिया कि राजपूत होने के बावजूद उसकी इतनी मजाल कि वह इस फिल्म को देखने की बात करे और वह भी तब जब करणी सेना इस फिल्म को ने देखने की अपील कर रही है. Also Read - अंडरवियर में कार्डियो करते दिखे रणवीर सिंह, शेयर करते ही फोटो वायरल...

आरोपी ने इस पूरे हमले का वीडियो भी बनाया और जाधव से कहा कि वह लिखकर माफी मांगे. यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद जाधव ने पुलिस के पास जाने का फैसला किया.

जीआईडीसी अंकलेश्वर थाने के एक अधिकारी ने बताया कि दोनो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया और बाद में एक अदालत में पेश किया गया.