बॉलीवुड के फेमस सिंगर-कंपोजर अनु मलिक ने गायिका श्वेता पंडित द्वारा उनके ऊपर लगाए यौन-उत्पीड़न के आरोपों से इनकार किया है. श्वेता ने उनको बाल प्रेमी और कामुक दरिंदा बताया था. अनु मलिक के वकील जुल्फिकार मेमन ने मीडिया से कहा, “अनु मलिक पर लगाए गए आरोप पूरी तरह झूठे और निराधार हैं, इसलिए इन आरोपों को स्पष्ट तरीके से खारिज किया जाता है. अनु ‘मी टू’ आंदोलन का सम्मान करते हैं लेकिन चरित्र खराब करने के मकसद से इस आंदोलन का इस्तेमाल करना निंदनीय है.”

#Metoo: आदमियों पर भरोसा करना… उन्हें तवज्जो देना, नीना गुप्ता की बहुत बड़ी गलती थी

श्वेता पंडित ने ट्विटर पर एक पोस्ट में वर्ष 2000 की एक घटना का जिक्र करते हुए मलिक के साथ अपने बुरे अनुभव को याद किया है. उन्होंने दावा करते हुए कहा, “एक बार स्टुडियो के केबिन में अनु मलिक ने कहा कि वह उन्हें सुनिधि चौहान और शान के साथ एक गाने का मौका देंगे लेकिन पहले मुझे एक Kiss दो.” श्वेता पंडित ने उस समय की एक घटना को याद किया जब वह 15 साल की थी.

#Metoo: पिता जतिन दास पर यौन उत्पीड़न का आरोप, नंदिता ने कहा, ‘सच सामने आएगा’

#MeToo पर बप्पी लाहिड़ी ने दिया बयान, ‘सालों बाद महिलाएं क्या साबित करना चाहती हैं’

उन्होंने कहा, “वह फिर मुस्कराए, मुझे वह मुस्कराहट सबसे बुरी लगी थी.” श्वेता से पहले गायिका सोना महापात्रा ने भी मलिक के खिलाफ इसी तरह के आरोप लगाए थे. गायिका सोना महापात्रा ने एक हफ्ते पहले, भी मलिक को आदतन यौन-उत्पीड़क कहा था.पंडित के आरोपों की प्रतिक्रिया में महापात्रा ने आप बीती सामने रखने और मलिक का नाम लेने के लिए उनका धन्यवाद किया.