बॉलीवुड एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता ने मी टू आंदोलन की शुरुआत करते हुए नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. तनुश्री का आरोप था कि फिल्म 10 साल पहले फिल्‍म ‘हॉर्न ओके प्‍लीज’ के गाने की शूटिंग के वक्त नाना उन्हें जबरदस्ती छूने की कोशिश की थी. जिसके बाद से इस आंदोलन ने जोर पकड़ा था और कई महिलाओं ने अपनी आपबीती सुनाई थी. तनुश्री ने इस बाबत नाना पाटेकर की शिकायत पुलिस स्टेशन में भी की थी. जिसपर लंबी जांच चली और अब पुलिस ने इसे सबूतों के अभाव में क्लोज करने का फैसला किया है. काफी मशक्कत के बाद भी पुलिस को एक भी नाना के खिलाफ ऐसा सबूत नहीं मिला है जिस पर वे एक्शन ले सकें. बता दें, पुलिस के इस फैसले के बाद नाना को बड़ी राहत मिली है. वहीं तनुश्री दत्ता के वकील का कहना है वे हार नहीं मानेंगे और इस लड़ाई को जारी रखेंगे.

तनुश्री ने नए इंटरव्यू में खोला राज, 'घटना के समय इसलिए नहीं सुनी गई मेरी आवाज'

पुलिस ने क्या कहा?
पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि किसी भी गवाह ने तनुश्री के आरोपो की पुष्टि नहीं की. इस केस में लगभग 15 लोगों के बयान दर्ज हुए थे लेकिन किसी के बयान एक्ट्रेस के बयान से मेल नहीं खा रहे थे. इसी क्रम में अब नाना को पूरे मामले में राहत मिलती नजर आ रही है.

बड़ी हस्तियों ने उड़ाया था मजाक
तनुश्री के इस गंभीर आरोप के बाद शक्ति कपूर और गजेंद्र चौहान जैसी वरिष्ठ हस्तियों ने इस बात का मजाक उड़ाया था. अभिनेता शक्ति कपूर (Shakti Kapoor) ने तनुश्री दत्ता के आरोपों पर चुटकी लेते हुए कहा था कि दस साल पहले जब यह घटना हुई उस समय वह बच्चे थे.जिसके जवाब में तनुश्री ने कहा था, “मैं क्या कह सकती हूं? इस सोच को बदलने की जरूरत है. हमारे मनोरंजन उद्योग और हमारे समाज में पुरुष सोचते हैं कि महिलाओं का अपमान करना उनका जन्मसिद्ध अधिकार है. आज छेड़खानी करने वाला कल दुष्कर्मी बन जाता है.”

10 साल तक क्यों चुप रही तनुश्री दत्ता?
जब उनसे सवाल किया कि आखिर किस चीज ने इस घटना के बारे में बोलने के लिए उन्हें प्रेरित किया? तनुश्री ने कहा, “घटना की तरफ ध्यान खींचने का मेरा कोई इरादा नहीं था. मैं तो भारत में छुट्टी मनाने आई थी. एक इंटरव्यू दे रही थी, और उसी दौरान मुझसे कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न के बारे में पूछा गया, और तब मैंने 2008 की घटना का जिक्र किया. मैंने बहुत सारी दूसरी बातें भी बोली थी, लेकिन मीडिया ने इसी को लपक लिया. और मैं खुश हूं. क्योंकि यौन प्रताड़ना के पूरे मुद्दे पर एक बहस तो छिड़ गई है.”

नाना ने कहा था सच कभी बदलता नहीं है
तनुश्री के आरोपों के बाद नाना के करियर पर काफी असर पड़ा था. उन्हें काम मिलना बंद हो गया था. यही नहीं उन्हें फिल्म ‘हाउसफुल 4’ से भी हटा दिया था और नाना की जगह ‘बाहुबली’ स्टार राणा दग्गुबाती को उनका रोल दिया गया. नाना पाटेकर ने अपने आरोपों पर सफाई देते हुए कहा था एक दिन सच जरूर सामने आएगा. सच कभी बदलता नहीं है.

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.