लेखक-निर्देशक विंता नंदा ने कहा कि एक बार फिर सारी जवाबदेही मेरे ऊपर आ गयी है कि करीब दो दशक पहले हुई घटना में जो कुछ भी हुआ उसकी जांच में सहयोग के लिये मैं अपना चिकित्सकीय जांच कराऊं. विंता नंदा ने अभिनेता आलोक नाथ पर बलात्कार का आरोप लगाया है. Also Read - UP Crime: दलित लड़की की रेप के बाद निर्मम हत्या, शव देखकर डॉक्टरों के भी उड़े होश

Also Read - बिहार: कटिहार में रेप पीड़ित मासूम के परिजनों से बोली पुलिस, जाओ, आरोपी को पकड़ लाओ

नंदा ने 19 अक्टूबर को पुलिस में नाथ के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी थी कि 19 साल पहले उनके टीवी सीरियल ‘‘तारा’’ की शूटिंग के दौरान नाथ ने कथित रूप से उनका यौन उत्पीड़न किया था. Also Read - Bulandshahr Rape Case: नाबालिग गर्भवती ने तीन लोगों पर दर्ज कराया दुष्कर्म का मामला, पुलिस ने घर जाकर दर्ज किया बयान

मंगलवार को उपनगर अंधेरी में ओशिवारा पुलिस थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी. नाथ के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (बलात्कार) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने पुलिस में शिकायत दर्ज करायी. उन्हें मुझे फोन करने और यह कहने में तीन सप्ताह का वक्त लग गया कि हां हम प्राथमिकी दर्ज कर रहे हैं. पिछले सप्ताह प्राथमिकी दर्ज हुई है. प्राथमिकी दर्ज करने के साथ अब फिर से जवादेही मेरे ऊपर ऊपर आ गयी है जबकि आम तौर पर प्राथमिकी के आधार पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाना चाहिए था.’’

नंदा ने कहा, ‘‘20 साल बाद अब मुझे शारीरिक चिकित्सकीय जांच के लिये जाना होगा. आज ही मैंने अखबार में पढ़ा कि मुझे चिकित्सकीय जांच करानी होगी और तभी वे मामले में आगे की प्रक्रिया कर पायेंगे.’’

यहां ‘वी द वुमेन’ नामक कार्यक्रम में ‘आफ्टर द मी टू रिवॉल्यूशन, व्हाट नेक्स्ट?’ (मी टू क्रांति के बाद अब आगे क्या?) विषय पर एक पैनल चर्चा के दौरान पत्रकार बरखा दत्त से बातचीत में लेखक ने ये बातें कहीं.

(इनपुट भाषा)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.