मुंबई: यौन उत्पीड़न के आरोपों में घिरे विकास बहल की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं हैं. फैंटम फिल्‍म्‍स की एक पूर्व कर्मचारी द्वारा छेड़छाड़ का आरोप लगाए जाने के बाद अब ‘इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन डायरेक्टर्स एसोसिएशन’ (आईएफटीडीए) ने उन्हें कारण बताओ नोटिस भेजा है.

‘फैंटम फिल्म्‍स’ में अनुराग कश्यप, विक्रमादित्य मोटवानी, मधु मंटेना के साथ विकास बहल भी साझीदार हैं. एक पूर्व महिला कर्मचारी ने आरोप लगाया है कि पिछले साल गोवा की यात्रा के दौरान निर्देशक विकास बहल ने उनके साथ अनुचित तरीके से व्यवहार किया था. बयान में कहा गया, ‘‘आईएफटीडीए ने विकास बहल के खिलाफ कड़ा कदम उठाते हुए कारण बताओ नोटिस जारी कर एक सप्ताह में जवाब मांगा है. ऐसा ना करने पर उनकी सदस्यता रद्द कर दी जाएगी.’’

रेप की घटना को उजागर करने में 20 साल लगे, क्योंकि शुरू में लगता था मेरी ही गलती है: विन्ता नंदा

संघ ने कहा कि उसने तत्काल महिला शिकायत निवारण प्रकोष्ठ की स्थापना की है. तीन सदस्यीय इस समिति में सभी महिलाएं हैं. अध्यक्ष के तौर पर टीवी एवं फिल्म निर्देशक स्वप्ना वाघमारे जोशी इसका नेतृत्व करेंगी. भावना तलवार को संयोजक और प्रियंका घटक को सह-संयोजक नियुक्त किया गया है. इनका सहयोग आईएफटीडीए की पूरी कार्यकारी समिति करेगी.

#MeToo: टीवी सीरियल्‍स के ‘संस्‍कारी बाबूजी’ के खिलाफ एक और अभिनेत्री आई सामने, अब नवनीत निशान ने लगाया आरोप

बयान में कहा गया, ‘‘यह महिला कर्मचारियों के लिए सुरक्षित माहौल बनाने के लिए किया जा रहा है और ऐसा तभी हो सकता है जब निर्देशक और निर्माण कंपनियां सरकार द्वारा स्वीकृत पीओएसएच (कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न की रोकथाम) के दिशानिर्देशों के तहत कार्य करने का संकल्प लें.’’ उसने कहा, ‘‘इससे ना केवल अनुभवी वरिष्ठों के बीच आत्मविश्वास पैदा होगा बल्कि उन महिलाओं के लिए भी जो भविष्य में इंडस्ट्री का हिस्सा बनना चाह रहीं हैं.’’

#Metoo:’क्वीन’ की एक्ट्रेस नयनी दीक्षित को विकास बहल ने कहा था रूम शेयर करो, एक्ट्रेस बोली-मारूंगी तुम्हें

‘प्रोड्यूसर्स गिल्ड ऑफ इंडिया’ ने इंडस्ट्री में कभी भी, कहीं भी हुए यौन उत्पीड़न और दुर्व्यवहार के खिलाफ आवाज उठाने और रिपोर्ट दर्ज कराने की इस पहल का समर्थन किया है. उसने बयान में कहा, ‘‘हमारा मानना है कि कार्यस्थल पर कर्मचारियों और अन्य सदस्यों के लिए सुरक्षा के उच्चतम मानकों को सुनिश्चित करने के लिए एक मजबूत प्रक्रिया स्थापित करने की तत्काल आवश्यकता है…कार्यालयों या प्रोडक्शन के सेट दोनों पर…’’ बयान में कहा गया, ‘‘इसके लिए हम गिल्ड के भीतर एक कमेटी का गठन कर रहे हैं और इंडस्ट्री में कार्यस्थल को सभी के लिए सुरक्षित स्थान बनाने तक हम इस दिशा में काम करते रहेंगे.’’