अभिनेत्री सोहा अली खान ने तनुश्री दत्ता के प्रति समर्थन जताते हुए कहा कि भारत जैसे देश में महिला होना बहुत मुश्किल है. सोहा ने सावन के ‘नो फिल्टर नेहा सीजन 3’ के प्रेस सम्मेलन में मीडिया से बात करते हुए सोमवार को यह बात कही. उनके साथ नेहा धूपिया, सोफी चौधरी, अगंद बेदी और गौरव कपूर भी शामिल थे. हैशटैगमीटू मूवमेंट पर प्रतिक्रिया जताते हुए सोहा ने कहा, “यह अच्छा है कि महिलाएं बोल रही हैं. कभी-कभी भारत जैसे देश में एक महिला होना बहुत कठिन होता है क्योंकि वे हर दिन बहुत कुछ सहती हैं.”

Tanushree-Dutta-Instagram

उन्होंने कहा, “इस मुद्दे पर खड़े होने और यह कहने के लिए बहुत साहस चाहिए. मुझे लगता है कि महिलाओं को ऐसा करने के लिए समर्थन और प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है. मैं हर उस महिला के साथ खड़ी हूं जो अपनी कहानी साझा करना चाहती है.”

नेहा ने भी कहा, “एक अभिनेता के रूप में नहीं बल्कि एक महिला के रूप में जब मैंने ऐसी चीजें पढ़ना और सुनना शुरू की तो मैं गुस्से से भर गई.”

नेहा ने कहा, “कभी-कभी, मैंने देखा है कि कुछ लोग इस पर सवाल उठाते हैं लेकिन यहां सवाल उठाने की जरूरत नहीं है. हमें उन पर भरोसा करना होगा.”

वहीं, सोफी चौधरी ने भी इस बात करते हुए कहा, “सबसे बुरी बात यह है कि लोग सवाल कर रहे हैं कि तनुश्री ने इस मुद्दे पर बात करने के लिए 10 साल क्यों लगाए. मुझे नहीं लगता कि वह प्रचार हासिल करने के लिए ऐसा कर रही हैं. तनुश्री को थोड़ा सा जानें. मुझे लगता है कि वह टॉक शो पर थी और वहां उनसे पूछा गया कि उन्होंने फिल्मों में अभिनय क्यों छोड़ दिया तब उन्होंने उस सवाल का स्पष्ट जवाब दिया.”

बता दें, पिछले कुछ सालों में कथित यौन शोषण का शिकार बनीं महिलाओं ने अपने कथित गुनहगारों के नाम सार्वजनिक किए जिसके साथ सोशल मीडिया पर नये नामों की बाढ़ सी आ गयी. इसी बीच महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा कि यौन उत्पीड़न और शोषण को लेकर मन में बना हुआ गुस्सा कभी नहीं जाता. उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी में संवाददाताओं से कहा कि वह बहुत खुश हैं कि #मी टू अभियान भारत में भी शुरू हो गया है और इससे महिलाओं को सामने आकर शिकायत करने का हौसला मिला है.

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.