दुनिया के फेमस दिवंगत पॉप गायक माइकल जैक्सन एक ऐसी शख्सियत थे जिन्हें हर उम्र के लोगों से बेहद प्यार मिला. बच्चों से लेकर उम्रदराज लोग सब उनके गाने और परफॉर्मेंस पसंद करते थे. वे न सिर्फ एक सिंगर थे बल्कि एक बेहतरीन स्टेज परफॉर्मर थे. शायद कम ही लोग जानते हैं कि 2001 में आतंकवादी हमले में माइल जैक्सन मौत को मात देकर बाल-बाल बचने में सफल रहे थे. Also Read - 9/11 Attack: 3 हजार मौतें और तबाही का वो मंजर, जिसे देखकर आज भी दहल जाता है लोगों का दिल

Also Read - Photo: जब माइकल जैक्सन को गले लगाने के लिए अनुपम खेर ने तोड़ दिए थे बैरिकेट्स

‘मिरर डॉट को डॉट यूके’ के मुताबिक, जैक्सन 9 सितंबर 2001 को हुए हमले के पीड़ितों में से एक हो सकते थे. इस हमले में लगभग 3,000 लोग उस समय मारे गए थे, जब आतंकवादियों ने ट्विन टावर्स से विमानों को टकरा दिया था. माइकल उस दिन कुछ ज्यााद देर तक सोते रह गए और ट्विन टावर्स में से एक में होने वाली मीटिंग में नहीं शामिल हो पाए. Also Read - माइकल जैक्सन ने की थी महामारी के रूप में कोरोनावायरस की भविष्यवाणी

माइकल के भाई जर्मेन जैक्सन ने बायोग्राफी ‘यू आर नॉट अलोन : माइकल : थ्रू अ ब्रदर आइज’ में लिखा है, “शुक्र है, हममें से किसी को नहीं पता था कि माइकल ट्विन टावर्स में से एक में उस सुबह मीटिंग में शामिल होने वाले थे.” बायोग्राफी में यह भी लिखा गया कि मां कैथरीन से देर रात तक बात करने के चलते माइकल सुबह देर तक सोए थे.

माइकल ने कहा था, “मां, मैं ठीक हूं. आपका शुक्रिया. आप मुझसे देर तक बात करती रहीं, जिसते चलते मैं देर तक सोता रह गया और मीटिंग में शामिल नहीं हो पाया.” दुनिया के सबसे बड़े आतंकवादी हमले में बच जाने के बावजूद 2009 में 50 साल की उम्र में माइकल का कार्डिएक अरेस्ट से निधन हो गया.

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.