लॉस एंजेलिस: मशहूर दिवंगत पॉप स्टार माइकल जैक्सन ने कोरोनावायरस जैसी वैश्विक महामारी की भविष्यवाणी की थी और यही वजह है कि मजाक बनाए जाने के बावजूद वह हमेशा अपने चेहरे पर मास्क पहने हुए रहते थे. उनके एक पूर्व अंगरक्षक ने इस बात का दावा किया है. द सन डॉट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनियाभर में कोरोनावायरस की इस स्थिति को देखते हुए मैट फिडेस ने इस बारे में बात कीं, जिन्होंने दशकों तक जैक्सन के लिए काम किया है. Also Read - Covid-19 : भारत में कोरोना के 1 हजार मामले, घर जाने को बेताब प्रवासी मजदूर, यूरोप में लगा लाशों का ढेर

मैट ने कहा, “वह (माइकल जैक्सन) जानते थे कि प्राकृतिक आपदा हमेशा बनी रहती हैं. वह बेहद जागरूक थे और हमेशा इस बात की भविष्यवाणी किया करते थे कि किसी भी समय हम पर मुसीबत आ सकती है. कोई रोगाणु जरूर फैल सकता है.” Also Read - Covid-19: तेलंगाना में कोरोना वायरस से पहली मौत, 6 नए मामले

मैट आगे कहते हैं, “वह कभी-कभी एक ही दिन में चार देशों की यात्रा करते थे, हवाई जहाज में कई लोगों के साथ बैठकर सफर करते थे.” Also Read - Covid-19: BCCI ने प्रधानमंत्री के आपदा प्रबंधन राहत कोष में दिए 51 करोड़ रूपये

मैट ने यह भी कहा कि उन्होंने कई बार उनसे मजाक में फेसमास्क न पहनने को कहा क्योंकि जब वह मास्क पहने रहते थे, तब मैट को उनके साथ फोटो खिंचवाने में शर्म आती थी, वह काफी असहज हो जाते थे.

मैट ने कहा कि उनकी इन्हीं बातों पर जैक्सन कहते थे, “मैट मैं बीमार नहीं पड़ सकता, मैं अपने प्रशंसकों को निराश नहीं कर सकता. मेरे कई सारे कार्यक्रम हैं. मेरे इस दुनिया में रहने की कोई वजह है. मैं अपनी आवाज को नुकसान नहीं पहुंचा सकता. मुझे स्वस्थ रहना होगा. मैं नहीं जानता कि आज मेरा सामना किस मुसीबत से होने वाला है, मैं नहीं जानता कि मुझ पर क्या गुजरने वाली है.”

आज अगर वह जीवित होते, तो इस स्थिति पर लोगों से क्या कहते? इसके जवाब में मैट ने कहा, “वह रोते, कहते कि जब वह इस तरह की बात करते थे, तब कोई उन्हें गंभीरता से नहीं लेता था और लोग उनका मजाक बनाया करते थे.”

साल 2009 में माइकल जैक्सन का निधन हुआ था.