गायक मीका सिंह ने रविवार को कहा कि उन पर पाबंदियां लगाने के फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लायीज (एफडब्ल्यूआईसीई) के फैसले के बावजूद वह भारत के लिए बेहतर काम करते रहेंगे. मीका पाकिस्तान में गाना गाने को लेकर आलोचना झेल रहे हैं.

फडब्ल्यूआईसीई फिल्म निर्माण के सभी 24 कौशलों का मातृ-निकाय है. संगठन ने बुधवार को एक बयान जारी किया था, जिसमें कहा गया है कि भारत और पाकिस्तान के बिगड़े रिश्ते व तनाव के बीच कराची में पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के रिश्तेदार की बेटी की शादी में मीका सिंह उर्फ अमरीक सिंह के गाना गाने से उसे गहरा आघात लगा है.

एफडब्ल्यूआईसीई ने मीका के पाश्र्वगायन करने, सार्वजनिक तौर पर प्रस्तुति देने और देश में अभिनय करने पर प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया है.

संभावना है कि चर्चित गायक मंगलवार को एफडब्ल्यूआईसीई के पदाधिकारियों से मिलेंगे. फेडरेशन इसके बाद अपने फैसले पर अंतिम फैसला लेगा.

बता दें, फिल्म एसोसिएशन ने कहा था, “जब देशों के बीच तनाव चरम पर होता है, तो मीका सिंह देश के गौरव को ताक पर रखकर पैसे को ज्यादा महत्व देते हैं.”

एसोसिएशन ने इस मामले में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के हस्तक्षेप की भी मांग की.

मीका ने 14 सदस्यीय मंडली के साथ एक लड़की की प्री-वेडिंग कार्यक्रम में प्रस्तुति दी, जिसके पिता अदनान असद कथित रूप से पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ के चचेरे भाई हैं. तीन शहरों -कराची, लाहौर और इस्लामाबाद में प्रस्तुति देने के लिए मीका और उनके दल को 30 दिनों के लिए वीजा दिया गया है.

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ