उत्तर प्रदेश में तीन साल पहले हुए मुजफ्फरनगर दंगों पर आधारित फिल्म शोरगुल भी कंट्रोवर्सी में आ गई है। फिल्म में मुख्य भूमिका निभा रहे अभिनेता जिमी शेरगिल के खिलाफ फतवा जारी किया गया है। यह फतवा खामन पीर बाबा कमेटी ने जारी किया है। गौरतलब है कि फिल्म कल से पूरे देश के सिनेमाघरों में रिलीज की जा रही है। हालाकि फिल्म की रिलीज यूपी के मुजफ्फरनगर, लखनऊ, कानपुर और गाजियाबाद में पहले ही बैन की जा चुकी है।Also Read - UP: सपा-सुभासपा के गठबंधन का ऐलान, अखिलेश बोले- बंगाल में खेला हुआ, UP में खदेड़ा होगा

Also Read - UP: मायावती सरकार में मंत्री रहे BSP के दो पूर्व नेता लालजी वर्मा, रामअचल राजभर ने SP में किया शामिल होने का ऐलान

फतवा जारी करते हुए बयान में कहा गया है कि फिल्म में कुछ ऐसे डॉयलाग हैं जिससे मुस्लिम समुदाय की भावनाएं आहत हो सकती हैं। फतवे में यह भी कहा गया है कि फिल्म को प्रदेश में रिलीज नहीं होने दिया जाएगा। इससे पहले विश्व हिंदू परिषद के नेता मिलन सोम ने भी इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक पीआईएल दायर करते हुए इसकी रिलीज पर रोक लगाने की मांग की थी। हालाकि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इसे खारिज कर दिया था और कहा था फिल्म अपने घोषित समय 24 जून को ही रिलीज की जाएगी। Also Read - अखिलेश यादव से मिले उमर खालिद के पिता, योगी आदित्यनाथ बोले- अगर ये लोग आएंगे तो क्या करेंगे

यह भी पढ़ेंः विवादों के चलते शोरगुल के निर्माताओं हटाया तन्मय का लिखा गाना

शोरगुल के निर्माता स्वतंत्र विजय सिंह का कहना है कि हमें जनहित याचिका और फतवे की जानकारी है। उन्होंने कहा इस फिल्म में किसी ऐसे मुद्दे का जिक्र नहीं है जिससे किसी की भावनाएँ आहत हों। उन्होंने कहा कि हम यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से बात करेंगे। हर नागरिक को हक है ये फिल्म देखने का क्योंकि इसमें आम आदमी की आवाज उठाई गई है।

शोरगुल एक पॉलिटिकल ड्रामा है जो यूपी में तीन साल पहले हुए मुजफ्फरनगर दंगों पर बनाई गई है। इस फिल्म के ट्रेलर में दमदार डॉयलाग दिखाए गए हैं। फिल्म में मुख्य भूमिका में संजय सूरी, नरेंद्र झा, हितेन तेजवानी, एजाज खान, सुहा गेजेन और दीपराज राणा भी रोल प्ले कर रहे हैं। देखिए ट्रेलर…