फिल्मकार अनुभव सिन्हा उनकी आगामी फिल्म ‘मुल्क’ के ट्रेलर के आधार पर उन पर हिंदूविरोधी का ठप्पा लगाकर उन्हें ट्रोल करने वालों को कड़ा जवाब देते हुए कहा कि ऐसे लोगों को बयान देने से पहले फिल्म देखनी चाहिए. नौ जुलाई को फिल्म का ट्रेलर रिलीज होने के बाद ही निर्देशक को ट्रेलर के संबंध में प्रतिक्रियाएं मिलने लगीं. उन्होंने कहा कि मात्र 20 फीसदी ट्रोल थे. शेष सभी सकारात्मक मैसेज थे.

सिन्हा ने  कहा, “हिंदू और मुसलमान दोनों समुदायों से आईं प्रतिक्रियाओं में 80 फीसदी लोग खुश हैं और फिल्म का इंतजार कर रहे हैं. वास्तविकता ये है कि ट्रेलर सिर्फ एक झलक है..ये पूरी फिल्म नहीं है.”

उन्होंने कहा, “यह दो घंटे की फिल्म की आधा कहानी दो मिनट में दिखाने जैसा है. इसलिए मुझे लगता है कि मुझे मुस्लिम समर्थक या हिंदू विरोध बताने की अपेक्षा फिल्म की पूरी कहानी जानने में बुद्धिमानी होगी.”तीन अगस्त को रिलीज हो रही मुल्क में ऋषि कपूर, आशुतोष राणा, नीना गुप्ता, तापसी पन्नू और प्रतीक बब्बर हैं. यह देशद्रोह का आरोप झेल रहे एक मुस्लिम परिवार के सम्मान वापसी की अदालती कहानी है.

Image result for film mulk

सिन्हा पर फिल्म के जरिए मुस्लिमों के प्रति समर्थन और सहानुभूति जुटाने को लेकर प्रचार करने का आरोप झेल रहे सिन्हा ने एक सार्वजनिक पत्र के माध्यम से ट्रोल करने वालों पर हमला बोला.

rishi-kapoor-mulk

ट्रोल करने वालों पर ‘तरस खाते’ हुए सिन्हा ने कहा, “कौन हैं वे? वे इस देश के बेरोजगार युवा हैं जो अपनी ऊर्जा पेशेवर अराजक तत्व बनने में खर्च कर रहे हैं. ये बच्चे अल्पशिक्षित और बिना किसी लक्ष्य के साथ असीमित ऊर्जा से भरे हैं.”

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.