Nargis Sunil Dutt Love Story- मशहूर एक्टर सुनील दत्त फिल्मों से पहले रेडियो में काम करते थे. उनके अंदर अभिनेता बनने की इच्छा थी. इस सिलसिले में वो मुम्बई आ गये. 1955 में फिल्म “रेलवे स्टेशन” से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की. वे radio ceylon में हिंदी के सबसे प्रसिद्ध अनाउंसर थे. अपना गुजारा करने के लिए सुनील दत्त ने बस कंडक्टर की नौकरी पकड़ ली. वो बंबई में नाई और टेलर के साथ रहा करते थे.Also Read - इश्क दा रंग चढ़ेया! 17 साल लिव इन में रहने के बाद हंसल मेहता ने 54 की उम्र में की शादी, पहले से हैं दो बेटे

रेडियो में काम करने के दौरान ही सुनील दत्त की मुलाकात उनकी पत्नी नरगिस से हुई थी. सुनील, नरगिस को देखते ही दिल दे बैठे. फिर वो वक्त आया जब उन्हें नरगिस का इंटरव्यू लेना था लेकिन जैसे ही नरगिस उनके सामने आईं सुनील सब कुछ भूल गए. नरगिस के सामने उनके मुंह से एक शब्द नहीं मिला जिसके बाद इंटरव्यू कैंसिल करना पड़ा. Also Read - सुनील दत्त पुण्यतिथि: रेडियो जॉकी से सुनील दत्त ने शुरू किया था सफर, इंटरव्यू के दौरान मिली थी पहली फिल्म

Related image Also Read - जम्मू कश्मीर: रामबन टनल हादसे में 10 लोगों की हुई मौत, सभी का शरीर बरामद, बचाव अभियान खत्म

‘मदर इंडिया’ फिल्म में नरगिस ने राधा का रोल निभाया था वहीं सुनील दत्त राधा के बेटे बिरजू बने थे. इसी फिल्म की शूटिंग के दौरान नरगिस को सुनील दत्त से मोहब्बत हुई थी. हुआ यूं था कि एक सीन के दौरान सेट पर आग लग गई थी और नरगिस उसमें फंस गईं.वो एक हीरो की तरह आग में कूदे और नरगिस की जान बचाई. नरगिस रोज़ अस्पताल जाकर उनकी देखभाल करतीं. आग वाले हादसे के बाद नरगिस का नज़रिया सुनील दत्त की ओर से पूरी तरह बदल गया था.

Image result for sunil dutt with sanjay dutt bollywood life

इसी बीच सुनील दत्त की बहन बीमार पड़ गईं. वे बंबई में किसी डॉक्टर को नहीं जानते थे. बिना सुनील दत्त को बताए नरगिस उनकी बहन को लेकर अस्पताल चली गईं और इलाज करवाया. सुनील दत्त पहले से ही नरगिस को चाहते थे लेकिन इस घटना के बाद उन्होंने तय कर लिया कि जिंदगी बितानी है तो उन्हीं के साथ.

सुनील दत्त और नरगिस से जुड़ा एक किस्सा ये भी है कि जब भी सुनील बाहर जाते थे तो नरगिस के लिए साड़ियां जरूर लाते थे. पर नरगिस ने एक भी सुनील की दी हुई साड़ी नहीं पहनी क्योंकि सुनील लाई हुई साड़ी उन्हें जंचती नहीं थी.

Related image

नरगिस को कैंसर की बीमारी थी. उनकी पूरी बॉडी में बहुत दर्द रहता था. डॉक्टर्स ने इसीलिए सुनील दत्त को सलाह भी दी कि वो नरगिस का लाइफ सपोर्ट सिस्टम हटा दें. लेकिन सुनील दत्त ने ऐसा करने से मना कर दिया. वे आखिरी पल तक उनके साथ रहे.