हिंदी फिल्मों की दिग्गज अभिनेत्री नीना गुप्ता (Neena Gupta) का कहना है कि हिंदी सिनेमा में महिलाओं को दिखाए जाने का तरीका नहीं बदला है और इसे बदलने में वक्त लगेगा. नीना ने यहां आईएएनएस से कहा, “यह (सिनेमा में महिलाओं का चित्रण) बिल्कुल नहीं बदला है. यह समाज के बदलने तक नहीं बदलेगा और समाज को बदलने में वक्त लगेगा. लड़कियां जल्दी बदल रही हैं, लेकिन पुरुष नहीं बदल रहे हैं. यही कारण है कि लड़कियां अगली पीढ़ी आने तक बुरे वक्त से गुजरेंगी.”

फिल्मों की बात करें तो नीना इन दिनों ‘बधाई हो’ की सफलता का लुप्त उठा रही हैं और वह ‘संदीप और पिंकी फरार’ की रिलीज को लेकर भी उत्साहित हैं.वह अभिनेत्री कंगना रनौत अभिनीत ‘पंगा’ में भी नजर आएंगी.उनका कहना है कि इस फिल्म में उनकी छोटी, लेकिन सशक्त भूमिका है.

Love masabas creation for #badhaaiho promotions

A post shared by Neena Gupta (@neena_gupta) on

बता दें, हाल ही में नीना गुप्ता ने कहा था कि पुरुषों को प्राथमिकता बनाना उनकी जिंदगी की बड़ी गलती थी, जिसकी वजह से उनका ध्यान करियर से हटकर सही पार्टनर चुनने पर केंद्रित हो गया. ‘खानदान’, ‘भारत एक खोज’, ‘सांस’ जैसे टीवी शो और ‘वो छोकरी’, ‘गांधी’ एवं ‘मुहाफिज’ जैसी फिल्मों में अपने दमदार अभिनय के लिए प्रसिद्ध नीना (64) ने कहा कि अच्छा रिश्ता बनाए रखने की चाहत ने करियर से उनका ध्यान भटकाया.

नीना ने बताया, ‘‘मैं हमेशा अच्छा काम करना चाहती थी और दमदार भूमिकाएं निभाना चाहती थी. लेकिन अब जब मैं पीछे मुड़कर देखती हूं तो मुझे लगता है कि पुरुष मेरी प्राथमिकता बन गए थे और यह मेरी बड़ी गलती थी. मेरा ध्यान करियर बनाने से हटकर सही पार्टनर चुनने पर केंद्रित हो गया. महिलाओं की जिंदगी में पुरुष कभी प्राथमिकता नहीं होने चाहिए.’’

See u today Ahmedabad #badhaai ho

A post shared by Neena Gupta (@neena_gupta) on

उन्होंने कहा, ‘‘मैं वाकई अच्छा काम कर रही थी. मैं लिख रही थी, निर्देशन कर रही थी और टीवी पर कुछ बेहतरीन चीजों का निर्माण कर रही थी. निजी जिंदगी में मैं जिन चीजों से गुजरी, मेरी पेशेवर पसंद-नापसंद पर उसका गहरी छाप पड़ी.’’

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.