मुंबई: मुंबई पुलिस ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल को नोटिस जारी कर उन्हें अपने बयान दर्ज कराने के लिये अगले हफ्ते पुलिसकर्मियों के समक्ष पेश होने को कहा गया है. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. अधिकारी ने बताया कि अपनी टिप्प्णियों के जरिये समुदायों के बीच कथित तौर पर वैमनस्य को बढ़ावा देने को लेकर उन दोनों के खिलाफ दर्ज मामले के सिलसिले में बयान दर्ज किये जाने हैं. Also Read - कंगना रनौत ने अपने एक्स बॉयफ्रेंड ऋतिक रोशन और आदित्य पंचोली को किया याद, ट्विटर पर लिखा 'काइंड....

बांद्रा मेट्रोपोलेटिन मजिस्ट्रेट की अदालत ने शनिवार को पुलिस को बॉलीवुड के कास्टिंग निर्देशक एवं ‘फिटनेस ट्रेनर’ मुनव्वर अली सैयद द्वारा दायर एक शिकायत की जांच करने का आदेश दिया था. शिकायत में रनौत और उनकी बहन के ट्वीट तथा अन्य बयानों का जिक्र किया गया था. Also Read - महिलाओं को Whats App पर Nude Pics और Porn Video भेजता था सेल्समेन, फिर...

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि अदालत के निर्देशों पर बांद्रा पुलिस ने रनौत और उनकी बहन (रंगोली) के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 153 ए (धर्म, नस्ल आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच वैमनस्य को बढ़ावा देना), 295 ए (धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिये जानबूझ कर की गई हरकत) और 124-ए (राजद्रोह) तथा 34 (समान मंशा रखने) के तहत एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी. उन्होंने बताया, ‘‘हमने रनौत और उनकी बहन को नोटिस जारी कर उन्हें उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी के सिलसिले में पुलिस के समक्ष पेश होने को कहा है. उनसे सोमवार और मंगलवार को उपस्थित होने को कहा गया है.’’ Also Read - Mumbai Local News Update: पहले महिला को बचाया फिर उसी के साथ करवाई छेड़खानी और छिनतई

अदालत में दायर शिकायत में सैयद ने आरोप लगाया था कि रनौत अपने ट्वीट और टीवी इंटरव्यू के जरिये पिछले दो महीनों से बॉलीवुड को ‘परिवारवाद का केंद्र’, ‘पक्षपाती’ आदि कह कर इसकी छवि खराब कर रही हैं.शिकायत में यह आरोप भी लगाया गया कि उन्होंने बहुत आपत्तिजनक टिप्पणी कर न सिर्फ उनकी भावनाओं को ठेस पहुंचाया है, बल्कि कई कलाकारों की भावनाएं भी आहत की हैं.