मुंबई: ‘मेरी कॉम’ फिल्म के निर्देशक उमंग कुमार कहते हैं कि रीमेक बनाना चुनौतीपूर्ण है। उमंग मंगलवार रात अजय देवगन और तब्बू अभिनीत ‘दृश्यम’ की विशेष स्क्रीनिंग में पहुंचे थे। यह भी पढ़े:प्रशांत भूषण को फटे जूते से मारूंगा: गायक अभिजीत Also Read - 'पीएम नरेंद्र मोदी' के रोल के लिए मेकर्स ने सिर्फ विवेक ओबेरॉय को ही क्यों चुना?

Also Read - नरेंद्र मोदी की बायोपिक पर बोले डायरेक्टर उमंग कुमार, 'यह फिल्म नहीं जिम्मेदारी है'

इस दौरान उन्होंने कहा, “रीमेक बनाना चुनौतीपूर्ण होता है, क्योंकि आपको वही फिल्म दोबारा बनानी पड़ती है और उसके बाद उसे बेहतर बनाने के लिए अपने हिसाब से रंग-रूप देना पड़ता है। रीमेक बनाते वक्त बहुत सिरदर्दी होती है, क्योंकि मूल फिल्म सफल हुई होती है, इसलिए आपकी फिल्म से भी सफलता की उम्मीद की जाती है।” Also Read - India's Best Dramebaaz की इस प्रतियोगी ने किया जज को इतना इंप्रेस कि मिल गया फिल्म में रोल

उमंग ने ‘दृश्यम’ के बारे में कहा, “मैंने अब तक कोई रीमेक या मूल फिल्म नहीं देखी है, इसके लिए भगवान को शुक्रिया। मैं अब बेफिक्र होकर फिल्म देख सकता हूं।” ‘दृश्यम’ की स्क्रीनिंग में अभिनेत्री प्राची देसाई, दर्शन कुमार, शेखर सुमन, अध्ययन सुमन, केन घोष, केतन मेहता, कामत, डेविड, धवन, उमंग कुमार और कई अन्य चर्चित चेहरे भी पहुंचे। यह मलयालम फिल्म ‘दृश्यम’ का रीमेक है। यह 31 जुलाई को रिलीज हो रही है।