फिल्म पद्मावत में अलाउद्दीन खिलजी का किरदार निभाकर दर्शकों की खूब तालियां बटोर रहे रणवीर सिंह ने इस बात का खुलासा किया की जब उन्हें यह फिल्म ऑफर की गई थी तो लोगों ने सलाह दी थी कि उन्हें खलनायक की भूमिका नहीं करनी चाहिए. Also Read - जब आयुष्मान खुराना की पत्नी ताहिरा ने खुद को समझा बेहद बेकार, कहा...

गुरुवार को रिलीज़ हुई ‘पद्मावत’ ने बॉक्स ऑफिस पर बढ़िया शुरुआत की है और मात्र दो दिन में ही फिल्म ने 50 करोड़ रुपये से ज़्यादा कमा लिए. Also Read - बंगाल जा रहे मालवाहक जहाज पर हुआ हादस, गंगा में डूबे 8 ट्रक, कई लोग लापता

अपनी फिल्म की शानदार शुरुआत से खुश रणवीर सिंह ने अपने फैन्स के प्रति आभार जताया और कहा कि “मैं दर्शकों से इतना प्यार पाकर अभिभूत हूं. मैं आभारी हूं कि सभी ने मेरे अभिनय को सराहा.” Also Read - India vs Australia- युवा खिलाड़ी बोला- मेरा पहला ऑस्ट्रेलिया दौरा, कोई टारगेट नहीं लेकिन करूंगा अच्छा

इस फिल्म में निभाए अपने किरदार के लिए रणवीर को दर्शकों के साथ ही आलोचकों से सराहना मिल रही है.

Image result for ranveer singh padmavati

आलोचकों ने कहा है कि रणवीर ने अपने प्रदर्शन के जरिए बॉलीवुड को सबसे अच्छा खलनायक दिया है.

इस पर रणवीर का कहना है, “ईमानदारी से कहूं तो जब मुझे ‘पद्मावत’ का प्रस्ताव मिला तो ज्यादातर लोगों का कहना था कि नायक को खलनायक की भूमिका नहीं निभानी चाहिए.”

उन्होंने कहा, “लेकिन मैंने खिलजी को एक चुनौती की तरह लिया और मैं यह चुनौती लेना चाहता था. मैं संजय लीला भंसाली के दृष्टिकोण और अपनी मन की आवाज पर चला कि मैं खिलजी के किरदार में क्या खास दे सकता हूं.”

यह फिल्म 16वीं शताब्दी के कवि मलिक मुहम्मद जायसी की कृति ‘पद्मावत’ पर आधारित है. इस फिल्म में दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर मुख्य भूमिकाओं में हैं.

सुधांशु वत्स, अजीत आंधरे और भंसाली के प्रोडक्शन में बनी यह फिल्म तमाम विवादों, विरोधों और कानूनी लड़ाई के बाद आखिरकार गणतंत्र दिवस से एक दिन पहले 25 जनवरी को देशभर में रिलीज हुई.

आंधरे ने ट्वीट किया, “‘पद्मावत’ ने अमेरिका, न्यूजीलैंड और जर्मनी में ‘टाइगर जिंदा है’ और ‘दंगल’ को पछाड़ दिया है और ऑस्ट्रेलिया में ‘बाहुबली’ को हरा दिया है. दुनियाभर में लाखों दिल जीत लिए हैं, गुजरात में कब हिट होगी.”