मुंबई: अभिनेत्री गीता सिद्धार्थ काक का 14 दिसंबर की शाम को मुंबई में निधन हो गया. अभिनेत्री को एम. एस. सथ्यु की 1973 में आई क्लासिक ‘गरम हवा’ में बेहतरीन अभिनय के लिए जाना जाता है. गीता ने गुलजार की 1972 में आई फिल्म ‘परिचय’ से अपनी शुरूआत की थी, जिसमें जितेंद्र और जया भादुड़ी जैसे कलाकार भी थे.Also Read - महाराष्ट्र सरकार की बड़ी कार्रवाई, मुंबई के पूर्व DGP परमबीर सिंह को निलंबित किया

मौसमी चटर्जी की बड़ी बेटी पायल का निधन, इस बीमारी से थीं पीड़ित Also Read - उद्धव ठाकरे को 22 दिनों के बाद अस्पताल से मिली छुट्टी, 'वर्क फ्रॉम होम' करेंगे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री

वह सत्तर और अस्सी के दशक में बॉलीवुड स्क्रीन पर एक जाना पहचाना चेहरा थीं. गीता ने ‘शोले’, ‘त्रिशूल’, ‘डिस्को डांसर’, ‘राम तेरी गंगा मैली’, ‘शौकीन’, ‘अर्थ’, ‘एक चादर मैली सी’, ‘गमन’ और ‘दूसरा आदमी’ जैसी फिल्मों में काम किया है. Also Read - Mumbai: पत्नी ने पढ़ाई नहीं करने पर बच्चों को पीटा तो पति ने मार दिया चाकू

उन्होंने टेलीविजन होस्ट-निमार्ता और डॉक्यूमेंट्री फिल्म निमार्ता सिद्धार्थ काक से शादी की, जिन्हें लोकप्रिय टीवी शो ‘सुरभि’ के लिए जाना जाता है, जो 1990 से 2001 तक दूरदर्शन पर प्रसारित हुआ. गीता इस शो की आर्ट डायरेक्टर थीं. गीता और सिद्धार्थ काक की बेटी अंतरा एक डॉक्युमेंट्री फिल्ममेकर हैं. अभिनय के अलावा गीता को उनके सामाजिक कार्यों के लिए भी जाना जाता है.