भारत में माहवारी से जुड़ी भ्रांतियों से जूझ रही एक महिला के जीवन पर आधारित फिल्म ‘पीरियड. एंड ऑफ सेंटेंस’ डॉक्यूमेंट्री शॉर्ट सब्जेक्ट श्रेणी में ऑस्कर के लिए शॉर्टलिस्ट हुई है. ‘पीरियड. एंड ऑफ सेंटेंस’ भारत में महिलाओं के मासिक धर्म से जुड़ी वर्जनाओं के खिलाफ और असल जिंदगी के ‘पैडमैन’ अरुणाचलम मुरुगनाथम के काम पर बात करती है. Also Read - लड़के और लड़कियों दोनों को सिखाया जाए की मासिक धर्म होना कोई शर्म की बात नहीं: स्मृति ईरानी

Also Read - Alert: Periods के दौरान अक्‍सर ये 6 गलतियां करती हैं लड़कियां, रखें ध्‍यान...

फिल्म कार्यकारी निर्माता गुनीत मोंगा और इसका सह-निर्माण मोंगा की सिखिया एंटरटेनमेंट कंपनी द्वारा किया गया है जिसने ‘द लंचबॉक्स’ और ‘मसान’ जैसी फिल्मों का हिस्सा रह चुकी है. Also Read - स्लमडॉग मिलेनियर के एक दशक बाद भारत में बनी इस फिल्म को मिला ऑस्कर

सोमवार को ऑस्कर शॉर्टलिस्ट की घोषणा के बाद मोंगा ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट में कहा, “शॉर्टलिस्ट में जगह बनाना बहुत गर्व और रोमांचक भरा रहा है. मैं इसकी निर्माण टीम का हिस्सा बनकर बहुत खुश हूं.”

ईरानी-अमेरिकी फिल्म निर्माता रेका जेहाबाची द्वारा निर्देशित फिल्म पैड प्रोजेक्ट द्वारा बनाई गई है.

26 मिनट की फिल्म उत्तरी भारत के हापुड़ की लड़कियों और महिलाओं और उनके गांव में पैड मशीन की स्थापना के ईद-गिर्द घूमती है.

फिल्म में मुरुगनाथम की सैनिटरी पैड मशीन के आविष्कार को भी दिखाया गया है.

ऑस्कर समारोह से एक महीने पहले 22 जनवरी, 2019 को 91वें ऑस्कर के लिए नामांकन की घोषणा की जाएगी. ऑस्कर का आयोजन 24 फरवरी, 2019 को होगा.

(इनपुट एजेंसी)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.