PM Modi Biopic-प्रधानमंत्री नरेंद्र की बायोपिक को 5 अप्रैल को रिलीज होना था लेकिन अब इसकी रिलीज डेट टल गई है. सुप्रीम कोर्ट फिल्म रिलीज रोकने संबंधी कांग्रेस नेता की याचिका पर आठ अप्रैल को सुनवाई करेगा. कांग्रेस सहित विपक्षी दलों को इस फिल्म के रिलीज से आपत्ति है. उनका कहना है कि इससे मोदी सरकार को चुनावी मौसम में अतिरिक्त लाभ मिल सकता है. इसलिए चुनाव समाप्ति तक इसे रिलीज नहीं होने देना चाहिए. न्यायमूर्ति एस. ए. बोबड़े की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि याचिका पर वह सोमवार को सुनवाई करेगी. याचिकाकर्ता और कांग्रेस प्रवक्ता अमन पंवार की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि दो उच्च न्यायालयों ने विवेक ओबेरॉय अभिनीत फिल्म के प्रदर्शन के मामले में हस्तक्षेप करने से इंकार कर दिया है. उन्होंने कहा कि इस फिल्म का प्रदर्शन निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव को प्रभावित कर सकता है.

Vivek Oberoi in PM Narendra Modi biopic

Vivek Oberoi in PM Narendra Modi biopic (Picture Courtesy: @Instagram/vivekoberoi)

बता दें, 10 मार्च को चुनाव की घोषणा के साथ आदर्श आचार संहिता लागू हो गया था. कांग्रेस  के अनुसार इस फिल्म का मकसद एक तरह से चुनाव प्रचार ही माना जाएगा. बता दें, पीएम नरेंद्र मोदी को ओमंग कुमार ने निर्देशित किया है. मूवी में विवेक ओबेरॉय पीएम मोदी का रोल निभा रहे हैं. वहीं दूसरी और चुनाव आयोग का कहना है कि उसे पीएम मोदी की बायोपिक से कोई आपत्ति नहीं है.

Vivek Oberoi for Narendra Modi biopic

सिब्बल ने कहा था, “हम मानते हैं कि यह न सिर्फ एक भ्रष्ट आचरण है, बल्कि फिल्म की रिलीज खास उद्देश्य से प्रेरित है. फिल्म के तीनों निर्माता भारतीय जनता पार्टी से जुड़े हुए हैं. अभिनेता विवेक ओबेराय भी भाजपा से हैं.”

फिल्म रिलीज के विवाद पर विवक ओबेरॉय ने भी एक इंटरव्यू में कहा था कि उन्हें समझ नहीं आ रहा कि फिल्म पर इतना विवाद क्यों है. पता नहीं, अभिषेक सिंघवी और कपिल सिब्बल जी अपना समय पीआईएल दाखिल करने में क्यों बर्बाद कर रहे हैं. पता नहीं वे फिल्म से डर गए हैं या फिर चौकीदार के डंडे से.

बता दें, फिल्म का निर्देशन ओमंग कुमार कर रहे हैं. जबकि इसके निर्माताओं में संदीप सिंह और सुरेश ओबेरॉय शामिल हैं.

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ