अभिनेता संजय दत्त की जिंदगी पर बनी फिल्म में उनके दिवंगत पिता सुनील दत्त की भूमिका निभाने वाले अभिनेता परेश रावल का कहना है कि उनके लिए यह सुखद और बेहतरीन अनुभव रहा. फिल्म का नाम अभी तय नहीं हुआ है. परेश ने यहां एक साक्षात्कार में कहा, ” राजकुमार हिरानी, रणबीर कपूर के कारण और अभिजात जोशी के लेखन के कारण इस फिल्म में काम करना मेरे लिए बेहतरीन अनुभव रहा है. मुझे लगता है कि सुनील दत्त साहब बहुत विनम्र थे और स्टारडम को कभी भी उन्होंने अपने ऊपर हावी नहीं होने दिया, इसलिए उनके किरदार को पर्दे पर निभाना बेहतरीन व संतोषप्रद अनुभव रहा.”

उन्होंने कहा कि फिल्म की कहानी मुख्य रूप से पिता-पुत्र के रिश्तों पर आधारित है. फिल्म में संजय दत्त का किरदार निभा रहे रणबीर के साथ काम करना शानदार अनुभव रहा क्योंकि वह बेहद प्रतिभाशाली अभिनेता हैं.

बॉलीवुड में वरिष्ठ कलाकारों जैसे तीनों खान और युवा पीढ़ी के बीच तुलना के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि दो पीढ़ियों के बीच तुलना करना सही नहीं है क्योंकि फिल्म उद्योग में हर कोई अपनी कुछ खासियत के साथ आता है.

उन्होंने कहा कि सलमान खान और शाहरुख खान का अपना आकर्षण और करिश्मा है. आमिर कुछ अलग हैं, वह पूरा पैकेज हैं, वह किसी चार्म या अन्य चीज पर निर्भर नहीं हैं. उन्होंने तो टाटा-बिड़ला से अधिक साख कमा ली है. लोग उनकी फिल्म यह मानकर देखने आते हैं कि वह अच्छी ही होगी.

अभिनेता ने कहा कि दूसरी तरफ वरुण धवन और रणबीर कपूर में असीम क्षमताएं है और उन्हें लगता है कि दोनों खुद को साबित कर दिखाएंगे.