मुंबई: सेंसर बोर्ड के प्रमुख प्रसून जोशी ने मंगलवार को कहा कि फिल्म ‘पद्मावत’ के प्रमाणन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और इसमें किसी तरह के कांटछांट की खबरें गलत हैं. जोशी ने कहा कि फिल्म निर्माताओं ने बोर्ड की सलाहकार पैनल के सुझाव के मुताबिक बदलाव के साथ फिल्म का प्रिंट फिर से दिया.

उन्होंने कहा, ‘‘ फिल्म के निर्माताओं ने पांच संशोधनों के साथ फिल्म का अंतिम प्रिंट सौंपा . इन संशोधनों में उन टिप्पणियों और सुझावों को समाहित करने की कोशिश की गई है जो सलाहकार पैनल की तरफ से सुझाए गए थे. ये बदलाव समाज की भावनाओं को ध्यान में रखकर किए गए हैं. ’’ जोशी ने एक बयान में कहा, ‘‘केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड द्वारा पहले ही इससे अवगत करा दिया गया है और फिल्म को यू/ए प्रमाणपत्र दिया गया है. सेंसर बोर्ड की प्रक्रिया पूरी है और दृश्यों में कांटछांट के बारे में कोई भी खबर पूरी तरह गलत है. ’’

यह भी पढ़ें: अड़ी राजस्थान सरकार, नाम बदलने के बाद भी राज्य में रिलीज नहीं होगी ‘पद्मावती’

सेंसर बोर्ड ने 30 दिसंबर को जारी बयान में कहा था कि फिल्म को यू/ए प्रमाणपत्र मिलेगा और इसमें कुछ बदलाव होंगे तथा फिल्म का शीर्षक भी बदल सकता है. जोशी ने कहा कि सेंसर बोर्ड फिल्म को मंजूरी दे चुका है और सेंसर बोर्ड को अब विवाद में नहीं खींचना चाहिए.

बता दें यह फिल्म 25 जनवरी को रिलीज होगी. पहले यह एक दिसंबर को रिलीज होने वाली थी. संजय लीला भंसाली द्वारा निर्देशित फिल्म में दीपिका पादुकोण, शाहिद कपूर और रणवीर सिंह प्रमुख भूमिकाओं में हैं.