The White Tiger on Netflix- दिल्ली उच्च न्यायालय ने गुरुवार को ‘नेटफ्लिक्स’ पर आज रात प्रदर्शित होने वाली ‘द व्हाइट टाइगर’ फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है. हॉलीवुड फिल्म निर्माता जॉन हार्ट जूनियर ने इस सिलसिले में अदालत में एक याचिका दायर कर कॉपीराइट उल्लंघन का आरोप लगाया था. देर शाम तत्काल सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति सी हरि शंकर ने इस पर रोक लगाने की याचिका खारिज कर दी. न्यायाधीश ने कहा कि फिल्म की रिलीज से 24 घंटे से भी कम समय के अंदर अदालत का रुख करने के पीछे एक भी वजह दिखाई नहीं देती है. Also Read - Monalisa Hot Photo: मोनालिसा की कातिल अदाओं से फैंस हुए 'Bold', भोजपुरी एक्ट्रेस की हॉटनेस से भरी तस्वीरें वायरल

अदालत ने इस विषय की सुनवाई दो घंटे से अधिक समय तक की. हालांकि, अदालत ने फिल्म के निर्माता मुकुल देवड़ा और ओटीटी मंच ‘नेटफ्लिक्स’ को सम्मन जारी किया. यह फिल्म आज रात ‘नेटफ्लिक्स’ पर रिलीज हो रही है. Also Read - Janhvi Kapoor Birthday: Mahesh Babu के साथ होने वाला था Janhvi Kapoor का डेब्यू, मां Sridevi की तरह करवा चुकी हैं ब्यूटी सर्जरी!

फिल्म में प्रियंका चोपड़ा जोनास और राजकुमार राव सहित अन्य कलाकारों ने अभिनय किया है. यह फिलम अरविंद अडिगा की पुस्तक ‘द व्हाइट टाइगर’ पर आधारित है.अदालत ने संयुक्त रजिस्ट्रार के समक्ष लिखित बयान सौंपने के लिए 22 मार्च की तारीख निर्धारित की है.अदालत ने कहा, ‘‘यह संभव नहीं है कि यह अदालत अभी इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि प्रतिवादी फिल्म का निर्माण कर और इसे रिलीज कर कॉपीराइट का उल्लंघन करने में संलिप्त है. ’’अदालत ने कहा कि देवड़ा और ‘नेटफ्लिक्स’ को फिल्म रिलीज करने की अनुमति दी जाती है. साथ ही, फिल्म के बैंक खातों का विवरण भी रखने का निर्देश दिया जाता है कि ताकि यदि हार्ट जूनियर अपने आरोप साबित करने में सफल रहते हैं तो उन्हें अदालत मुआवजा दिला सके.

हार्ट जूनियर की ओर से पेश हुए अधिवक्ता कपिल संख्ला ने दलील दी कि अक्टूबर 2019 में उन्हें पता चला कि नेटफ्लिक्स फिल्म बनाने की प्रक्रिया में जुटा हुआ है और ‘ओवर द टॉप’ (ओटीटी) मंच पर रिलीज कर रहा है. इसे लेकर देवड़ा और नेटफ्लिक्स को इस तरह के किसी कार्य से रोकने के लिए एक कानूनी नोटिस भेजा गया था.संख्ला एक अमेरिकी प्रोडक्शन कंपनी संचालित करने वाली सोनिया मुदभटकल का भी प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि उनके मुवक्किलों को यह कभी नहीं बताया गया कि फिल्म की शूटिंग 2020 में जारी रही क्योंकि कोविड-19 के चलते विदेश में इस तरह के सारे कार्य रोक दिये गये थे और इस वजह से कॉपीराइट का उल्लंघन हुआ.