‘पैडमैन’ के निर्देशक आर. बाल्की की पत्नी लेखिका-निर्देशक गौरी शिंदे ने कहा कि उन्हें गर्व है कि मासिक धर्म की स्वच्छता पर आधारित फिल्म की कमान पुरुषों ने संभाली. यहां फिल्म की स्क्रीनिंग के मौके पर गौरी ने कहा, “फिल्म शानदार है और मुझे बहुत पसंद आई. मुझे अपने पति और पूरी टीम पर बहुत गर्व है. मुझे लगता है कि जिन महिलाओं ने इसमें काम किया, जिन्होंने इसकी सराहना की और जिन्होंने हमें यह फिल्म बनाने के लिए प्रेरित किया उन्हें सलाम.” Also Read - कियारा आडवाणी के साड़ी में नखरे कमाल, ऊपर से मुस्कुराती है तो लगती हैं बवाल

अपने पति बाल्की की तरह, गौरी खुद एक विज्ञापन फिल्म निर्देशक भी हैं और उन्होंने फिल्म ‘इंग्लिश विंग्लिश’ के साथ बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत की थी. Also Read - अक्षय कुमार स्टारर 'लक्ष्मी बॉम्ब' के निर्देशक इस मुद्दे को उठाने के लिए क्यों हो गए मजबूर?  

यह पूछे जाने पर कि मासिक धर्म की स्वच्छता पर एक फिल्म बनाने के दौरान उन्होंने फिल्मकार और एक महिला होने के नाते बाल्की को क्या सुझाव दिए, उन्होंने कहा, “वह (बाल्की) जो कुछ भी करते हैं, मैं उसका श्रेय लेना पसंद करती हूं, लेकिन दुर्भाग्य से इस बार ऐसा नहीं हुआ.” Also Read - अक्षय कुमार की 'लक्ष्मीबम' को बॉयकॉट करने की उठ रही मांग, #BoycottLaxmmiBomb हुआ ट्रेंड  

उन्होंने कहा, “मुझे इस बात पर बेहद गर्व है कि इसकी कमान एक तरह से पुरुषों ने ही संभाली चाहे वे बाल्की हों, अक्षय कुमार या विवेक (सोनी पिक्चर्स एंटरटेनमेंट इंडिया के प्रबंध निदेशक विवेक कृष्णानी) हों. यह देखना अद्भुत है कि इसके लिए पुरुष एकजुट हुए.”

फिल्म अरुणाचलम मुरुगनाथनम के जीवन पर आधारित है, जिन्होंने मासिक स्वच्छता के लिए सस्ते पैड बनाने की क्रांतिकारी तकनीक खोज निकाली. इसमें सोनम कपूर और राधिका आप्टे भी प्रमुख भूमिका में है.