पंजाबी गानों का शौक भी किसी नशे से कम नहीं है. कुछ अच्छे गाने सुनने के बाद आपको और बेहतर गानों की तलब लगनी शुरू हो जाती है. एक समय था जब पंजाबी गाने सिर्फ भांगड़ा, हुस्न और नखरे पर बेस्ड होते थे. वहीं अगर आज की बात करें तो समय पूरी तरह से बदला हुआ नजर आता है. आज के गाने किसी बेहतरीन अर्बन लोकेशन से शुरू होते हैं जिसमें गजब की मॉडल्स, ईडीएम(इलेक्ट्रॉनिक डांस म्यूजिक), बंदूक, शराब और महंगे शौक दिखाए जाते हैं.

अगर आप पंजाबी गानों के शौकीन हैं तो अमृत मान का नाम आपने सुना ही होगा. वैसे तो अमृत मान भी बाकी पंजाबी सिंगर्स की तरह ही एक सिंगर हैं लेकिन कुछ ऐसी चीजें हैं जो इन्हें बाकी गायकों से अलग बनाती हैं. अमृत मान के गानों के लिरिक्स में एक किस्म का एक एटीट्यूड झलकता है जो बाकी पंजाबी से गा.ब दिखाई देता है. उनका गाना Diffrence इसी तरह का एक उदाहरण है.

जब आप इस गाने को सुनेंगे तो महसूस होगा कि वह एक मर्द की तुलना उस इंसान से कर रहे हैं जो दूसरो की भावनाओं को लेकर संजदा नहीं है. जबकि एक मैच्योर और समझदार इंसान की तुलना वे एक असली मर्द से करते दिखाई देते हैं. इसी तरह कई उदाहरण वह अपने गानों में पेश करते हैं. हालांकि ऐसा नहीं हैं कि वे सिर्फ एक मिसाल कायम करने के लिए ही ऐसे गाने गाते हैं.

उनके कुछ फेमस गानों में पेग दी वाशना, बॉम्ब जट्ट, परियां तो सोहनी, पेग वोडका दा और ट्रेंडिंग नखरा का नाम शुमार है. ऐसे कई गानें हैं जिनके लिरिक्स भी अमृत ने खुद ही लिखे हैं. उनकी एक कास तरह की फैन फॉलोइंग है जो अर्बन एटीट्यूड और मॉर्डन म्यूजिक वाले गाने पसंद करती है.