फिल्मकार मेघना गुलजार की नयी फिल्म ‘ राजी ’ वैसे तो देशभक्ति पर आधारित फिल्म है हालांकि निर्देशक इस बात को लेकर स्पष्ट थीं कि वह फिल्म को बेचने लायक बनाने के लिये पाकिस्तान को निशाना बनाने वाले या पाकिस्तान विरोधी नारों का सहारा नहीं लेना चाहती. हरिंदर सिक्का के उपन्यास ‘‘ कॉलिंग सहमत ’’ पर आधारित ‘ राजी ’ एक ऐसी भारतीय लड़की की कहानी है जिसकी शादी वर्ष 1971 के भारत – पाकिस्तान युद्ध के दौरान जासूसी करने के इरादे से पाकिस्तानी सेना के एक अधिकारी से होती है. Also Read - आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान के स्वीमिंग पूल में मिला सांप, VIDEO देखकर आंखें आ जाएंगी बाहर

alia bhatt raazi Also Read - ऑस्कर अकादमी का हिस्सा बनने के लिए ऋतिक, आलिया को न्योता, ये हस्तियां भी हैं लिस्ट में शामिल  

मेघना ने बीती शाम संवाददाताओं से कहा , ‘‘ यह कहानी अपने आप में बहुत सशक्त है और हमें देशभक्ति दिखाने के लिये किसी नारेबाजी की जरूरत नहीं थी … आपको जो कहना है , वही कहें और आप इसे बेहद सरलता और ईमानदारी से भी कहें. जब आप देशभक्ति पर कोई फिल्म बना रहे होते हैं और आप पाकिस्तान को निशाना नहीं बना रहे हैं तो इसका समर्थन करने के लिये आपको बहादुर लोगों की जरूरत होती है. ’’ Also Read - विद्युत जामवाल ने इस वजह से उठाए स्टार पावर ट्रेंड पर सवाल, आउटसाइडर होने का बताया दर्द

निर्देशक फिल्म की सफलता को लेकर संवाददाता सम्मेलन में बोल रही थीं. उन्होंने कहा कि फिल्म का प्रदर्शन उनके दिल के बेहद करीब है.मेघना के पिता जाने माने कवि और लेखक गुलजार भी इस मौके पर मौजूद थे.

गुलजार ने फिल्म के गीत लिखे हैं. उन्होंने कहा कि एक पिता होने के नाते अपनी बेटी के दर्शकों के बीच होने से बड़ा मेरे लिये कुछ नहीं है. गुलजार की इस बात पर मेघना की आंखें भर आयीं. इस दौरान फिल्म के कलाकार विकी कौशल , सोनी राजदान और जयदीप अहलावत एवं अन्य भी मौजूद थे.

 

(इनपुट पीटीआई)