अभिनेत्री राधिका आप्टे को लगता है कि भाई-भतीजावाद पर संवाद करना बेहद जटिल है. ऐसा न केवल फिल्म इंडस्ट्री के बारे में है बल्कि हर जगह है. राधिका ने कहा, “मैं इस चर्चा का हिस्सा नहीं बनना चाहती हूं. यह केवल इनसाइडर-आउटसाइडर के बारे में नहीं है. यह एक व्यापक संवाद है, जिसमें किसी एक के जबाव देने से बात नहीं बनेगी. एक समाज के तौर पर, हमने भाई-भतीजावाद का समर्थन किया है. यह सिर्फ फिल्म उद्योग में नहीं है. बदलाव लाने के लिए हम सभी को बदलने की जरूरत है.” Also Read - एस पी बालासुब्रमण्यम के निधन पर PM समेत अन्य नेताओं ने जताया शोक कहा- बेमिसाल संगीत से हमेशा यादों में रहेंगे

बॉलीवुड में पहचान बनाने को लेकर उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि इनसाइडर और आउटसाइडर दोनों के लिए ही यहां सफलता पाना मुश्किल है. केवल एक खास परिवार में पैदा होने से सफलता नहीं मिलती है, यह मुश्किल संवाद है.” Also Read - Drugs को लेकर Sherlyn Chopra के पांच बड़े खुलासे, IPL Parties में चलती है Cocaine?

Radhika Apte

Radhika Apte
Photo Credit: Instagram/@radhikaofficial

इससे पहले राधिका ने कहा था, “मैं यहां केवल प्रसिद्धि पाने के लिए नहीं हूं. हां, कभी-कभी इससे मिलने वाले सुविधाओं को मैं पसंद करती हूं, लेकिन मैं सफलता और असफलता को गंभीरता से नहीं लेती.” Also Read - काले रंग की ऑफ शॉल्डर ड्रेस में मौनी राय ने बरपाया कहर, गले में लटकते लॉकेट ने दिल लूट लिया

अभिनेत्री ने कई फिल्मों में न केवल शानदार अभिनय से लोगों का दिल जीता है, बल्कि उन्होंने बॉलीवुड नायिका की रूढ़ीवादी छवि को तोड़ते हुए ‘फोबिया’, ‘बदलापुर’, ‘मांझी: द माउंटेन मैन’, ‘लस्ट स्टोरीज’, ‘सेक्रेड गेम्स’ और ‘पैड मैन’ जैसे प्रोजेक्ट भी किए हैं.