प्रत्युषा बैनर्जी सुसाइड केस में कहानी ने फिर एक नया मोड़ ले लिया है। प्रत्युषा के बॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह इस केस की शुरुआत से ही शक के घेरे में थे। लेकिन हाल ही में पुलिस से पूछताछ के दौरान कुछ ऐसे राजों से पर्दा उठा है, जिसके बाद शक की सुई राहुल राज सिंह पर ही आकर रुक गई है। पुलिस के मुताबिक राहुल राज सिंह को पहले से ही पता था कि प्रत्युषा सुसाइड करनेवाली है। पुलिस ने राहुल पर पूछताछ के बाद ये आरोप लगाया है। हालांकि सोमवार को हाईकोर्ट में सुनवाई के बाद राहुल को एंटीसिपेटरी बेल मिल गई है।

बॉम्बे हाईकोर्ट में सरकारी वकील ने ये दावा करते हुए कहा कि प्रत्यूषा ने मरने से पहले राहुल को कॉल किया था और बता दिया था कि वो सुसाइड करने जा रही हैं। लेकिन इसके बाद भी राहुल ने समय रहते कोई कदम नहीं उठाया। इसलिए वकील ने कोर्ट के सामने ये दावा किया है कि प्रत्यूषा ने सुसाइड नहीं किया है बल्कि उसका मर्डर हुआ है। इस मामले में जस्टिस मृदुला भाटकर ने फैसला सुनाते हुए कहा कि प्रत्यूषा और राहुल के बीच तीन मिनट की आखिरी फोन कॉल की रिकॉर्डिंग सुनने के बाद ही वह आगे की कारवाई करेगी। ये भी पढ़ें: वीडियो: प्रत्युषा बैनर्जी की डेड बॉडी का वीडियो फुटेज हुआ लीक

इसके अलावा अपने बयान में राहुल ने खुलासा किया है कि प्रत्यूषा को ड्रग्स लेने की आदत पड़ गई थी, साथ ही वो फाइनेंशियल स्ट्रेस से भी गुजर रही थी। बता दें कि प्रत्युषा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ था कि सुसाइड से पहले प्रत्यूषा बेहद नशे में थी। प्रत्युषा की बॉडी में करीब 135 एमजी अल्कोहल मिला था, जो आम मात्र से कहीं ज्यादा है। प्रत्युषा की मौत उनकी नशे की हालत भी बताई जा रही है।