कलाकार- अजय देवगन,इलियाना डीक्रूज,सौरभ शुक्ला,सानंद वर्मा
निर्देशक- राजकुमार गुप्ता
मूवी टाइप- थ्रिलर
अवधि2 घंटा 8 मिनट
स्टार-3.5 Also Read - अजय देवगन की साली ने हॉटनेस से बढ़ाया इंटरनेट का पारा, Tanishaa Mukerji का हुस्न जैसे कोई संगमरमर- Photos 

ईमानदारी का चस्का भी अजीब है, न लगे तो कुछ नहीं, अगर लग जाए तो मौत से इश्क है. फिर वो चाहे असल जिंदगी में हो या फिर बड़े पर्दे पर. उसके लिए आपको किसी वर्दी या किसी टैग की जरूरत नहीं, ईमानदारी वैभव नहीं देखती. ये मन से प्रेम की बात है. सिद्धांतों से मुलाकात है. Also Read - Breaking News: अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू के घर आयकर का छापा, तलाशी जारी

अजय देवगन, इलियाना डिक्रूज और सौरभ शुक्ला जैसे सितारों से सजी फिल्म ‘रेड’ एक इनकम टैक्स ऑफिसर की कहानी है जिसका ईमानदारी की सजा के तौर पर 49 बार तबादला हो चुका है. लेकिन फिर कुछ कर गुजरने का जज्बा अभी तक कायम है. जैसा कि फिल्म की टैग लाइन भी है. हीरो हमेशा यूनिफार्म में नहीं आते. इस फिल्म का हीरो भी लड़ाई-झगड़े से नहीं बल्कि अपने उसूलों, देशभक्ति, और लगन से काले धन के खिलाफ जंग लड़ता ही नहीं बल्कि उसे जीतता भी है. Also Read - Alia Bhatt की फिल्म Gangubai Kathiawadi में हुई इस एक्टर की एंट्री, 22 साल बाद भंसाली के साथ करेंगे काम

raid2

कहानी- अजय देवगन (अमय पटनायक) का इस तबादला लखनऊ किया जाता है. जहां वो सांसद रामेश्वर सिंह उर्फ राजाजी सिंह (सौरभ शुक्ला) के यहां अपनी पूरी टीम के साथ छापा मारता है. बाहुबली राजाजी को जब इसकी खबर मिलती है तो वो हैरान हो जाता है. और अपने घर में इस रेड को रोकने के लिए जी-जान लगा देता है. कई मंत्रियों के भी चक्कर लगाता है. लेकिन कहीं भी बात नहीं बन पाती. सभी मजबूरी का हवाला देकर हाथ खड़े कर देते हैं. वहीं अमय भी पीछे नहीं हटता. राजाजी साम दाम दंड भेद सारा जोर लगा देता है और अंत में इस रेड को रुकवाने के लिए एक ऐसी चाल चलता है जिसके सामने एक बार लगता है कि अमय पटनायक हार जाएगा. लेकिन फिर यहीं कहानी में एक ट्विस्ट आता है. इस रस्साकशी में किसकी जीत होती है, इसके लिए तो आपको फिल्म जाकर देखनी पड़ेगी. इस पूरे घटनाक्रम में अमय की पत्नी नीता पटनायक (इलियाना डीक्रूज) अजय देवगन का पूरा साथ देती है. एक नज़र देखिए फिल्म का ट्रेलर

अभिनय- अजय देवगन को अपने किरदारों को खास अंदाज में जीने के लिए जाना जाता है. इस फिल्म में भी ऐसा ही है. अजय देवगन का दमदार अभिनय है. इलियाना डीक्रूज ने भी अपने छोटे से रोल के मुताबिक ठीकठाक ऐक्टिंग की है. राजकुमार गुप्ता ने एडिटिंग काफी कसी हुई है. जो आपको बोर नहीं करती और कहानी का रोमांच बनाए रखती है. फिल्म के डायलॉग भी दमदार है. ऐसा लगता है जैसे डायलॉग के जरिए हीरो और विलेन की लड़ाई को देखा जा सकता है.

raid song

कुछ और भी- फिल्म की कहानी की बात करें तो यह 1981 के बैकग्राउंड पर बनी एक सच्ची घटना पर आधारित फिल्म है. फिल्म की कहानी इनकम टैक्स अधिकारी शरद प्रसाद पांडे से प्रेरित है जिसने एक व्यापारी सरदार इंद्र सिंह के घर पर साल 1981 में छापा मारा था और एक करोड़ 60 लाख रुपए का कैश और सोना जब्त किया था. यह रेड 18 घंटे तक चली थी और इसमें 45 लोग लगातार सिर्फ नोट गिनने के लिए बैठे रहे थे.