‘रूकावट’ किसी भी चीज में झुंझलाहट ही पैदा करती है. वो चाहे कुछ देर के लिए हो या फिर हमेशा के लिए. लेकिन अगर इस रूकावट को हम दोस्त बना लें, तो क्या फिर वो वाकई हमें इतना परेशान कर पाएगी. शायद नहीं. क्योंकि कोई भी चीज हमें तभी तक परेशान करती है जब तक हम उससे भागते हैं. एक बार जब अपनी कमी को समझ लें. अपना लें. तो सारा झंझट खत्म. रानी मुखर्जी की अपकमिंग फिल्म ‘हिचकी’ भी कुछ यही बताती है. काफी अरसे बाद रानी एक शानदार फिल्म के साथ वापसी कर रही हैं. मंगलवार को फिल्म का ट्रेलर रिलीज किया गया है. जैसा कि नाम से अंदाजा लगाया जा सकता है फिल्म में रानी एक बीमारी से ग्रस्त है जिसमें उन्हें बात करने में बार-बार हिचकी होने लगती है.

hichki1

रानी का सपना कि वो एक टीचर बनें. इसलिए वो कई स्कूल में नौकरी पाने की कोशिश करती हैं. लेकिन हमेशा की तरह उन्हें ना ही सुनने को मिलता है. कभी कहा जाता है कि वे खुद ठीक से बोल नहीं पाती बच्चों को कैसे पढ़ाएंगी, तो कभी उन्हें सांत्वना देकर कोई दूसरी नौकरी तलाशने की बात कह दी जाती है. लेकिन रानी हार नहीं मानती और आखिरकार उन्हें एक स्कूल में पढ़ाने की नौकरी मिल जाती है. लेकिन इन बच्चों को पढ़ाना आसान नहीं होता. झुग्गी- झोपड़ी के रहने वाले ये बच्चों रानी का बहुत मजाक उड़ाते हैं. उनके साथ बदतमीजी करते हैं. लेकिन रानी भी ठान लेती है कुछ भी हो इन्हें सुधारकर ही दम लेंगी. फिर क्या होता???? क्या बच्चे रानी की बात मानकर अपने ट्रेक पर आ जाते हैं या फिर रानी को नौकरी छोड़नी पड़ती है ये तो आपको फिल्म देखकर ही पता चलेगा. एक नज़र देखिए फिल्म का ट्रेलर

फिल्म 23 फरवरी के दिन रिलीज हो रही है. डायरेक्शन किया है सिद्धार्थ मल्होत्रा ने और मनीष शर्मा फिल्म के प्रोड्यूसर हैं.